नियुक्ति की बारी आई तो कहा-आप योग्य नहीं

नियुक्ति की बारी आई तो कहा-आप योग्य नहीं

Mahesh Chand Gupta | Publish: Aug, 29 2018 02:19:26 AM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

परीक्षा ले ली, दस्तावेज जांच लिए, िफर याद आई योग्यता, राजस्थान अधीनस्थ एवं मंत्रालयिक सेवा चयन बोर्ड की संगणक पद के लिए परीक्षा, अब बोर्ड ने कार्मिक विभाग को भेजा मामला

जयपुर. राजस्थान अधीनस्थ एवं मंत्रालयिक सेवा चयन बोर्ड ने संगणक पद पर भर्ती के लिए पहले तो परीक्षा ले ली, फिर दस्तावेज भी जांच लिए, मगर जब नियुक्ति देने का वक्त आया तो अयोग्य बताते हुए बाहर का रास्ता दिखाने पर तुले हुए है। बोर्ड ने संगणक के 400 पद के लिए परीक्षा ली, जिसमें कॉमर्स स्नातक के अभ्यर्थियों को भी शामिल किया गया। परीक्षा में पद से डेढ़ गुना यानी 600 अभ्यर्थियों को पास किया गया। इसमें से 504 बच्चे अंतिम सूची में क्वालिफाई हुए। इसमें चार सौ अभ्यर्थियों की पद पर नियुक्ति होनी है। इस बीच कॉमर्स स्नातक उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को यह कहते हुए बाहर का रास्ता दिखाया जा रहा है कि कॉमर्स सवंर्ग से उत्तीर्ण होने वाले इस भर्ती के योग्य नहीं है। जबकि, अभ्यर्थियों का दावा है कि भर्ती के लिए जारी सूचना में शैक्षणिक योग्यता में स्पष्ट अंकित है कि गणित, सांख्यिकी या अर्थशास्त्र में से कम से कम एक विषय में स्नातक उपाधि वाला अभ्यर्थी इसमें शामिल हो सकता है। उधर, बोर्ड ने यह मामला कार्मिक विभाग को भेज दिया है।
जवाब मांगते सवाल

—भर्ती प्रक्रिया के तहत जारी विज्ञप्ति में जो शैक्षणिक योग्यता अंकित की गई है, उसमें मान्यता प्राप्त विवि से गणित, सांख्यिकी या अर्थशास्त्र में से कम से कम एक विषय में स्नातक उपाधि पाने वाले विद्यार्थी को आवेदन के लिए पात्र माना गया। इसी आधार पर फार्म भरा, परीक्षा ली गई, दस्तावेज भी जांचे गए। ऐसे में अब जाकर क्यों याद आई कि ऐसे अभ्यर्थी योग्य नहीं है।

—आर्थिक एवं सांख्यिकी निदेशालय के सेवा नियम में भी यही योग्यता अंकित है और उसे ही चयन बोर्ड ने अपनाया, तो फिर गफलत कहां हुई।

————

—नियमों की व्याख्या बोर्ड तो कर नहीं सकता है। वास्तविक स्थिति साफ करने के लिए कार्मिक विभाग को मामला भेज दिया गया है। कार्मिक विभाग जो भी निर्देश देगा, उस आधार पर कार्रवाई करेंगे।

—बी.एल. जाटावत, चेयरमैन, राजस्थान अधीनस्थ एवं मंत्रालयिक सेवा चयन बोर्ड

 

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned