जब प्रदेशाध्यक्ष बना तब 21 सीट थी, कार्यकर्ताओं की मेहनत से बनाई सरकार, विरोधी बयान देने के बजाय काम करें : पायलट

जब प्रदेशाध्यक्ष बना तब 21 सीट थी, कार्यकर्ताओं की मेहनत से बनाई सरकार, विरोधी बयान देने के बजाय काम करें : पायलट

Pushpendra Singh Shekhawat | Updated: 07 Sep 2019, 09:20:29 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

जन्मदिन पर सचिन पायलट का विरोधियों पर किया पलटवार, कहा कौन किस पद पर काम करेगा, इसका निर्णय सोनिया लेंगी, चुनावों में सरकार के कामकाज की होती है परीक्षा, निकाय चुनाव की तैयारी में जुटी है पार्टी

सुनील सिंह सिसोदिया / जयपुर। कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष एवं उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ( Sachin Pilot ) ने आखिरकार 'एक व्यक्ति-एक पद' के मुददे पर अपनी चुप्पी तोड़ी। सचिन ने इस मुददे पर अब तक हुई बयानबाजी पर पलटवार करते हुए कहा कि नेता और पदाधिकारियों को 'एक व्यक्ति, एक पद' की बातों पर फोकस करने की बजाय प्रस्तावित नगर निकाय चुनावों पर ध्यान देना चाहिए। ऐसी बयानबाजी करने वाले पहले यह सोचें कि वे अपने क्षेत्रों से किस प्रकार निकाय चुनाव में जीत दिला सकते हैं। जनता की मांगो को कैसे पूरा किया जा सकता है।

अपने जन्मदिन के मौके पर प्रदेश मुख्यालय में पत्रकार वार्ता में सचिन यहीं नहीं रुके। उन्होंने कहा कि जनता सरकार का काम परखती रहती है। अगर जनता को लगेगा कि सरकार ने अच्छा काम किया है तभी वोट देगी। कुल मिलाकर अब चुनाव में जनता सरकार के अच्छे काम को देखकर वोट करेगी। सरकार अच्छा काम करेगी तो कांग्रेस निकाय चुनाव में जीतेगी। इससे पहले सचिन को बधाइयां देने राज्यभर से आए कार्यकर्ता, विधायक एवं मंत्रियों ने उनके जन्मदिन समारोह को शक्ति प्रदर्शन में तब्दील कर दिया।

सचिन ने कहा कि कौन व्यक्ति किस पद पर काम करेगा और किसको किस वक्त क्या जिम्मेदारी देनी है। इसका निर्णय राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी करेंगी। वही हम सब को स्वीकार होगा। नेता और पदाधिकारियों को इस बहस में पडऩे की बजाय अपने क्षेत्र में ज्यादा काम कराने चाहिए। एक सवाल के प्रतिउत्तर में उन्होंने कहा कि साढ़े 5 साल पहले मुझे प्रदेशाध्यक्ष बनाया गया। उस वक्त विधानसभा में कांग्रेस की मात्र 21 और भाजपा की 163 सीट थीं। केन्द्र में नई सरकार बनी थी। उस चुनौती पूर्ण समय में प्रत्येक कार्यकर्ता ने मेहनत कर पूरी शिद्दत से पार्टी का साथ दिया।

प्रदेश के सभी नेताओं को साथ लेकर चला और अंतत: राज्य में फिर कांग्रेस की सरकार बनाने में कामयाब हुए। इससे पहले धौलपुर विधानसभा उप चुनाव के अलावा सभी चुनाव जीते। कार्यकर्ताओं की मेहनत से लगातार पार्टी मजबूत हुई है। इस कामयाबी को आगे भी जारी रखने के लिए सभी कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर काम करुंगा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned