Seasonal Diseases : कोरोना महामारी के बीच अब डेंगू और मलेरिया का 'डंक'

Seasonal Diseases : जयपुर . प्रदेशभर में मानसून की शुरुआत के साथ ही कई अन्य Seasonal Diseases का खतरा बढ़ गया है। Corona के बीच Swine Flu, Dengue, Malaria व Chikungunya जैसी बीमारियों से लड़ना Health Department के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है

By: Anil Chauchan

Published: 25 Jun 2020, 06:46 PM IST

Seasonal Diseases : जयपुर . प्रदेशभर में मानसून की शुरुआत के साथ ही कई अन्य मौसमी बीमारियों ( Seasonal Diseases ) का खतरा बढ़ गया है। कोरोना ( Corona ) के बीच स्वाइन फ्लू ( Swine Flu ) , डेंगू ( Dengue ), मलेरिया ( Malaria ) व चिकनगुनिया ( Chikungunya ) जैसी बीमारियों से लड़ना स्वास्थ्य विभाग ( Health Department ) के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है।

बरसात के मौसम में मौसमी बीमारियां स्वास्थ्य विभाग के लिए नई मुसिबत साबित होगा। बरसात के मौसम में संक्रमण जनित कई बीमारियों के साथ—साथ मच्छरों से काटकर होने वाली बीमारियों भी काफी होती हैं। इनमें मुख्य रूप से डेंगू व मलेरिया है। कुछ वर्ष पूर्व डेंगू और मलेरिया ने अपना जमकर कहर बरपाया था और इससे कई लोगों की मौत भी हो गई थी।


स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि मौसमी बीमारियों से लड़ने के लिए हम पूरी तरह तैयार है। सीएमएचओं प्रथम डॉ. नरोत्तम शर्मा ने बताया कि राज्य में चल रहें विभिन्न स्वास्थ्य प्रोग्राम का एक्शन फ्लान बना लिया है। खासकर डेंगू व मलेरिया की रोकथाम की तैयारी शुरू कर दी है। विभाग ने कोविड-19 के इस दौर में लोगों से मौसमी बीमारियों को लेकर सचेत रहने के लिए अलर्ट किया है।

सर्दी की बीमारी पर अब साल भर —:
कहने को तो स्वाइन फ्लू को सर्दी की बीमारी कहा जाता है, लेकिन यह बीमारी अब वर्षभर देखने को मिलती है। आंकड़ों पर जाए तो इस वर्ष जनवरी से अब तक प्रदेश में स्वाइन फ्लू की 4 हजार 589 जांचें हुई हैं। इनमें से 116 मामले स्वाइन फ्लू के पॉजिटिव आए तथा अलवर में एक व्यक्ति की इस बीमारी से मौत हुई। स्वाइन फ्लू के जयपुर में सबसे ज्यादा 2209 जांचें हुई जिनमें से 71 लोग स्वाइन फ्लू पॉजिटिव आए।

डेंगू के 328 मरीज आए सामने —:
जनवरी से अब तक डेंगू के 328 मरीज सामने आए है। यह बीमारी मच्छरों से होती है और बरसात के मौसम में ज्यादा फैलती है। हालांकि इस वर्ष अभी तक डेंगू से कोई मौत दर्ज नहीं हुई है। अब बरसात का मौसम शुरू हो गया है। ऐसे में कोरोना के साथ—साथ इस बीमारी को लेकर भी सतर्कता बरतनी होगी।

मलेरिया के मरीज आना शुरू —:
प्रदेश के अस्पतालों में मलेरिया के मरीज आना शुरू हो गए हैं। बरसात के मौसम में मच्छर ज्यादा होते हैं। इसका मुख्य कारण जगह—जगह पानी का भर जाना होता है। अस्पताल में आने वाले रोगियों को डॉक्टरों की ओर से इन मौसमी बीमारियों से बचने के तरीके भी बताए जा रहे हैं।

चिकनगुनिया भी करेगा परेशान —:
इन दिनों चिकनगुनिया नाम की बीमारी भी काफी होती है। पिछले कुछ वर्षों से यह बीमारी काफी फैल रही है। जनवरी से अब तक चिकनगुनिया के 153 मामले सामने आ चुके हैं, इनमें से सबसे ज्यादा जयपुर में 59 केस सामने आए।

Corona virus
Show More
Anil Chauchan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned