राजस्थान के इन 3 जिलों में सीरो सर्वे, पता चलेगा क्या अपने आप ठीक हो गए लोग

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) ने राजस्थान के दौसा, राजसमंद और जालोर जिलों में सीरो सर्वेक्षण शुरू किया है।

By: santosh

Published: 24 Aug 2020, 02:57 PM IST

जयपुर। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) ने राजस्थान के दौसा, राजसमंद और जालोर जिलों में सीरो सर्वेक्षण शुरू किया है। राज्य सरकार की ओर से ऐसा कोई सर्वेक्षण अब तक नहीं किया गया है। ऐसे में आईसीएमआर का सीरो सर्वेक्षण राज्य सरकार के लिए यह पता लगाने में मददगार होगा कि कोरोना वायरस तीनों जिलों में किस स्तर तक फैला।

प्रदेश में यह सीरो सर्वे का दूसरा चरण है। ICMR के एक अधिकारी के अनुसार, पहले चरण में उन्होंने मई में तीन जिलों से रक्त के नमूने एकत्र किए थे। सर्वे से सामने आया था कि लिए गए कुल नमूनों में से एक प्रतिशत से कम कोरोना वायरस संक्रमण के बाद अपने आप ठीक हो गए थे।

सीरो सर्वे में किसी स्थान पर हर समूह के लोगों के ब्लड सैंपल की जांच कर शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता का पता लगाया जाता है। इससे बिना लक्षण वाले कोरोना मरीजों की पहचान होती है जिन्हें संक्रमण हुआ तो था, लेकिन अपनी प्रतिरोधक क्षमता के कारण वे ठीक हो गए।

राजस्थान में वैश्विक महामारी कोरोना के सोमवार सुबह 585 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 71 हजार 194 पहुंच गई और कोरोना के छह और मरीजों की मृत्यु होने से इससे मरने वालों का आंकड़ा भी बढ़कर 961 हो गया। नए मामलों में सर्वाधिक 182 मामले जोधपुर में सामने आए। इसी तरह राजधानी जयपुर में 167 संक्रमित मिले। इसके अलावा भीलवाड़ा में 42, अलवर में 41, कोटा में 40, चूरू में 30, प्रतापगढ में 25, बाड़मेर में 23, हनुमानगढ़ में 17, बांसवाड़ा में 11 एवं जालोर में तीन नए मामले सामने आए।

coronavirus

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned