भारतीय पुरुषों के यौन-स्वास्थ्य पर पहली रिपोर्ट पेश, बढ़ता तनाव, बदलती जीवनशैली डाल रही असर

5 हजार से अधिक लोगों में सर्वे के बाद Misters.in ने भारतीय पुरुषों के यौन-स्वास्थ्य पर पहली रिपोर्ट पेश की । बता दे Misters.in पुरुषों से संबंधित मामलों को व्यक्तिगत रूप से ऑनलाइन जगह देने वाला भारत का पहला डायरेक्ट टु कस्टमर [डी2सी] हेल्थ एवं वेलनेश ब्रांड है । Misters.in के सह-संस्थापक गौरव गुप्ता ने बताया समय-पूर्व वीर्य-स्खलन का मुख्य कारण तनाव है । सर्वे में बताया गया जीवनशैली से संबंधित बुरी आदतें यौन स्वास्थ्य पर असर डाल रही हैं।

By: Kartik Sharma

Published: 12 Mar 2020, 10:00 AM IST

5 हजार से अधिक लोगों में सर्वे के बाद Misters.in ने भारतीय पुरुषों के यौन-स्वास्थ्य पर पहली रिपोर्ट पेश की । बता दे Misters.in पुरुषों से संबंधित मामलों को व्यक्तिगत रूप से ऑनलाइन जगह देने वाला भारत का पहला डायरेक्ट टु कस्टमर [डी2सी] हेल्थ एवं वेलनेश ब्रांड है । Misters.in के सह-संस्थापक गौरव गुप्ता ने बताया समय-पूर्व वीर्य-स्खलन का मुख्य कारण तनाव है । सर्वे में बताया गया जीवनशैली से संबंधित बुरी आदतें यौन स्वास्थ्य पर असर डाल रही हैं।

सर्वे की मुख्य बातें
-1 यौन स्वास्थ्य समस्याओं को अक्सर बढ़ती उम्र की समस्याओं के रूप में माना जाता है। हालांकि, तथ्य यह है कि 57.2 प्रतिशत उत्तरदाता 18-30 साल के आयु-वर्ग में आते हैं। लेकिन हम यह देख सकते हैं कि यह धारणा सच से अधिक मिथ है।
2. अगली बार ***** में उत्तेजना महसूस होगी या नहीं, इस मसले पर 37 प्रतिशत उत्तरदाताओं ने अपने अंदर भरोसे की कमी का एहसास किया। यह देखते हुए कि मर्दानगी के विचार से यह सहज रूप से जुड़ा हुआ है, यह मर्दों के यौन-स्वास्थ्य के विकास का महत्वपूर्ण मापदंड है। यह काबिले गौर है कि उम्र के साथ ***** में उत्तेजना कम होती दिखती है, लेकिन अपेक्षाकृत युवा लोगों के लिए भी यह आंकड़ा चिंताजनक है।
3. 69 प्रतिशत उत्तरदाता यह बताते हैं कि साथी की संतुष्टि से पहले ही उनका वीर्य-स्खलित हो जाता है। इसमें दो तरह की समस्याएं शामिल हैं- एक, महिला की यौनि में प्रवेश से पहले ही वीर्य-स्खलन और दूसरी, यौनि में प्रवेश के तुरंत बाद।
4. अच्छे यौन-स्वास्थ्य बनाए रखने में जीवनशैली की भूमिका बड़ी होती है। उन लोगों में से, जिन्होंने यौन स्वास्थ्य चुनौतियां स्वीकार की हैं-
ए) 26 प्रतिशत ज्यादा तनाव का अनुभव करते हैं
बी) 14.9 प्रतिशत हफ्ते में 90 मिलीलीटर से अधिक शराब पीते हैं
सी) 22.1 प्रतिशत धूम्रपान करते हैं

Kartik Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned