Akshaya Tritiya: इस बार अक्षय तृतीया पर डिजिटल गोल्ड में करें निवेश

अनेक भारतीय परिवार धन और समृद्धि से जुड़े अक्षय तृतीया ( Akshaya Tritiya ) के पर्व पर हर साल सोना ( gold ) खरीदते हैं। अनुभवी निवेशक ( gold investors ) इस तथ्य से अच्छी तरह परिचित हैं कि निवेश के लिहाज से स्वर्ण खरीदना हमेशा एक आकर्षक प्रस्ताव रहा है। हालांकि कई राज्यों में लगाए गए लॉकडाउन ( lockdown ) के दौरान इस बार अपने घर के सुरक्षित दायरे से डिजिटल तरीके ( digital gold scheme) से स्वर्ण खरीदना एक सबसे अच्छा विकल्प है।

By: Narendra Kumar Solanki

Published: 14 May 2021, 10:40 AM IST

जयपुर। अनेक भारतीय परिवार धन और समृद्धि से जुड़े अक्षय तृतीया के पर्व पर हर साल सोना खरीदते हैं। अनुभवी निवेशक इस तथ्य से अच्छी तरह परिचित हैं कि निवेश के लिहाज से स्वर्ण खरीदना हमेशा एक आकर्षक प्रस्ताव रहा है। हालांकि कई राज्यों में लगाए गए लॉकडाउन के दौरान इस बार अपने घर के सुरक्षित दायरे से डिजिटल तरीके से स्वर्ण खरीदना एक सबसे अच्छा विकल्प है।
अपस्टॉक्स के निदेशक पुनीत माहेश्वरी का कहना है कि सोने को हमेशा सबसे सुरक्षित निवेश विकल्पों में से एक माना गया है। कई ऑनलाइन प्लेटफॉर्म और स्टॉकब्रोकर आज डिजिटल गोल्ड की पेशकश कर रहे हैं और इनकी सहायता से ऑनलाइन सोना खरीदना अब बस, कुछ ही क्लिक से संभव है। डिजिटल गोल्ड में निवेश करते समय देखने वाली चार बातें हैं।
सुविधा: आसान इंटरनेट एक्सेस के साथ, निवेशक वास्तविक समय की बाजार दरों पर विभिन्न ऑनलाइन प्लेटफार्मों के माध्यम से डिजिटल सोना खरीद सकते हैं। इन प्लेटफार्मों पर सोने के मूल्य निर्धारण में कोई भी बदलाव लगभग तुरंत ही नजर आ जाता है। यह किसी भी संभावित खरीदार को सोच-समझकर निर्णय लेने की अनुमति देता है।
विश्वसनीयता: विभिन्न बैंकों, ब्रोकिंग फर्मों और फिनटेक प्लेटफार्मों ने डिजिटल गोल्ड के अधिकृत विक्रेताओं या उत्पादकों के साथ भागीदारी की है। डिजिटल सोना खरीदने से पहले सोने की शुद्धता, हॉलमार्किंग और विक्रेता की विश्वसनीयता जैसी पेशकशों की जांच करना महत्वपूर्ण है।
अफोर्डेबिलिटी: डिजिटल सोने की पेशकश करने वाले प्लेटफॉर्म काफी लोकप्रिय हो गए हैं और तेज गति से आगे बढ़ रहे हैं। इनकी सहायता से उपभोक्ता अपने स्मार्टफोन के माध्यम से शुद्ध सोना खरीद सकते हैं और वो भी छोटी कीमत पर। वे चाहें तो सिर्फ एक रुपए से भी स्वर्ण निवेश की शुरुआत कर सकते हैं। इस तरह लोग अपने बजट के अनुसार डिजिटल गोल्ड में निवेश कर सकते हैं। ध्यान रखें कि डिजिटल सोना खरीदने पर 3 प्रतिशत जीएसटी अदा करना होता है।
फिजिकल डिलीवरी: एक बार होल्डिंग अवधि समाप्त हो जाने पर, निवेशक अपने घर पर सोने की फिजिकल डिलीवरी का विकल्प चुन सकते हैं। हालांकि प्लेटफॉर्म के आधार पर फिजिकल गोल्ड पर मेकिंग और डिलीवरी शुल्क लग सकते हैं।

Narendra Kumar Solanki Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned