ट्विटर वार : सचिन पायलट और जयपुर डिस्कॉम अध्यक्ष यूं हुए आमने—सामने

ट्विटर वार : सचिन पायलट और जयपुर डिस्कॉम अध्यक्ष यूं हुए आमने—सामने

Bhavnesh Gupta | Publish: Sep, 08 2018 09:25:44 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

बिजली मित्र एप के जरिए बिजली बिल जमा कराने की बंदिश को कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट ने तुगलकी फरमान बता डिस्कॉम पर धावा बोल दिया हैै

भवनेश गुप्ता . जयपुर। जयपुर डिस्कॉम के कर्मचारी, अधिकारियों को बिजली मित्र एप से ही विद्युत बिल जमा कराने और ऐसा नहीं करने पर वेतन नहीं मिलने के आदेश पर ट्विटर वार शुरू हो गया है। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट ने ट्विट कर इसे कर्मचारी विरोधी तुगलकी फरमान बताते हुए डिस्कॉम प्रशासन के इस आदेश पर सवाल उठा दिया है। पायलट के इस ट्विट के बाद जयपुर डिस्कॉम अध्यक्ष व प्रबंध निदेशक ने भी जवाब दे दिया। उन्होंने रिट्विट करके बताया कि कर्मचारियों की स्वीकृति के बाद ही ऐसा किया गया है, इसमें किसी को आपत्ति नहीं है। पायलट के ट्विट पर लोग लगातार रिट्विट कर रहे थे, इसके बाद गुप्ता सक्रिय हुए।

पायलट का ट्विट, गुप्ता का रिट्विट..
सचिन पायलट— जयपुयर डिस्कॉम ने अपने सभी कर्मचारियों को तुगलकी फरमान सुनाया है, यदि वे अपने बिजली बिल बिजली मित्र एप से नहीं भरेंगे तो उनका वेतन रोक लिया जाएगा। कर्मचारी विरोधी सरकार में विभाग भी तानाशाही कर रहा है। यदि आपको केवल आॅनलाइन बिल स्वीकार करना है तो करें, वेतन पर कुदृष्टि क्यों।

आर.जी. गुप्ता— कंपनी के कर्मचारियों को कोई आपत्ति नहीं है। यह उनकी स्वीकृति से ही किया जा रहा है।

 

jaipur

यह है आदेश...
जयपुर डिस्कॉम ने दो दिन पहले आदेश जारी किया। इसमें जयपुर डिस्कॉम से जुड़े तेरह जिलों के करीब 16 हजार कर्मचारी—अधिकारियों को बिजली मित्र एप के जरिए ही अपने घर का बिजली बिल जमा कराने की बंदिश लगा दी। ऐसा नहीं करने पर उनका वेतन रोकने के निर्देश हैं। इसके इसके लिए अण्डटेकिंग देनी होगी। इसमें खुद प्रबंध निदेशक, निदेशक मण्डल भी शामिल हैं।


निदेशक मण्डल से लेकर कर्मचारी तक जद में
इस आदेश की जद में निदेशक मण्डल सें लेकर कर्मचारी तक आएंगे। आदेश में यह भी स्पष्ट कर दिया गया है। सभी सम्बन्धित वेतन वितरण अधिकारियों को भी निर्देश दिए गए है कि निर्धारित प्रारुप में अण्डरटेकिंग प्रस्तुत किए जाने के बाद ही माह सितम्बर एवं उसके बाद के वेतन का भुगतान किया जाए।

यह देनी होगी अण्डरटेकिंग...
— बिजली मित्र एप मोबाइल पर डाउनलोड कर लिया है।
— सितम्बर में प्राप्त बिजली बिल का भुगतान बिजली मित्र एप से किया है। भविष्य में भी मैं अपने बिजली बिलों का भुगतान स्वेच्छा से बिजली मित्र एप के जरिए ही करता रहूंगा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned