राजस्थान: BJP एकजुटता संदेश के बीच कोर ग्रुप बैठक में शामिल नहीं हुईं Vasundhara Raje, बता डाली ये वजह

प्रदेश भाजपा की कोर ग्रुप की बैठक, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे नहीं हुईं बैठक में शामिल, नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया ने भी जताई असमर्थता, दोनों नेताओं ने प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह को किया सूचित, राजे की मौजूदगी को लेकर बना हुआ था सस्पेंस, गुटबाजी के बीच आज होनी है महत्वपूर्ण बैठक


By: nakul

Published: 24 Jan 2021, 03:52 PM IST

जयपुर।


पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया आज प्रदेश भाजपा मुख्यालय पर होने वाली कोर ग्रुप बैठक में शामिल नहीं हुए। प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह ने कहा कि दोनों ही नेताओं ने बैठक के लिए आने में असमर्थता जताई है। उन्होंने कहा कि राजे ने जहां अपनी बहु का स्वास्थ्य नासाज़ होने का हवाला दिया है तो वहीं कटारिया निकाय चुनाव की व्यस्तता के चलते बैठक में शामिल नहीं हो पा रहे हैं। दोनों ही नेता ने प्रदेश नेतृत्व को इस बारे में सूचित करते हुए अनुमति ली है।

गौरतलब है कि राजे के आज की बैठक में शामिल होने को लेकर लगातार सस्पेंस बना हुआ था। उनकी मौजूदगी में होने वाली कोर ग्रुप की बैठकों के कई मायने भी निकाले जा रहे थे।


राजे-पूनिया-शेखावत का नहीं दिखेगा साथ!
पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे यदि आज की कोर ग्रुप बैठक में शरीक होतीं, तो प्रदेश अध्यक्ष डॉ सतीश पूनिया और केंद्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत के साथ लम्बे समय बाद किसी संगठनात्मक बैठक में नज़र आतीं। दरअसल, पूनिया और शेखावत से मनमुटाव की अटकलें कई बार मीडिया और सोशल मीडिया पर सुर्ख़ियों में रह चुकी हैं।

गुटबाजी की अटकलें बनी सुर्खियाँ
प्रदेश भाजपा में गुटबाजी की अटकलों ने पिछले दिनों खूब सुर्खियां बटोरीं। खासतौर से पार्टी अध्यक्ष सतीश पूनिया और पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के समर्थकों के बीच वर्चस्व की लड़ाई खुलकर सामने आती नज़र आई। दोनों नेताओं के कथित गुटों का पार्टी के बैनर से दूर अपनी-अपनी अलग टीमें गठित करने की बातों ने गुटबाजी को तूल दिया।


वहीं राजे की गैर मौजूदगी में सतीश पूनिया, गुलाब चंद कटारिया और राजेन्द्र राठौड़ की ‘तिकड़ी’ का दिल्ली जाकर राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाक़ात के बाद भी कयास लगाए जाने लगे की पार्टी के अंदरखाने कुछ तो गड़बड़झाला चल रहा है। हालांकि हर बार की तरह इन अटकलों को भी तमाम नेता कोरी अफवाह करार देते भी बचते दिखाई दिए हैं।

nakul Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned