महिला को अकेली देख बनाया दुष्कर्म का शिकार

महिला को अकेली देख बनाया दुष्कर्म का शिकार

Vijay Kumar | Publish: Jun, 14 2018 04:54:53 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

मकान मालिक के लड़के पर ही लगाया महिला ने यह आरोप

जयपुर. जवाहर सर्किल थाना इलाके में किराए से रहने वाली एक महिला ने मकान मालिक के लड़के पर दुष्कर्म करने का आरोप लगाते हुए इस्तगासे के जरिए मामला दर्ज करवाया है। पुलिस ने बताया कि मालवीय नगर छह सेक्टर में किराए से रहने वाले महिला ने बुधवार को मामला दर्ज करवाया कि वह 2015 में पति के साथ शंकर विहार में किराए से रहती थी। इस दौरान मकान मालिक के लड़के सुनील ने उसके साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद उसने मकान खाली कर दिया और मालवीय नगर में किराए से रहने लगी। पुलिस इसके पीछे आपसी लेनदेन का विवाद भी होना मान रही है। पुलिस मामला दर्ज करके जांच कर रही है।


यहां भी हो चुकी है नाबालिग से दुष्कर्म की घटना

फागी थाना इलाके के चौरू गांव में एक नाबालिग के साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है। पीडि़ता के पिता ने पांच जनों के खिलाफ फागी थाने में मामला दर्ज कराया है। थानाधिकारी गणपतराम के अनुसार पीडि़ता के पिता ने मामला दर्ज कराया है कि वह दूसरे जिले में एक फैक्ट्री में मजदूरी करता है। 26 मई को उसकी पत्नी अपनी बहन से मिलने फागी गई हुई थी। घर पर उसका बेटा-बेटी और वृद्ध मां थी। रात करीब 12 बजे किसी ने दरवाजा खटखटाया तो पुत्री दरवाजा खोलने गई। जहां राजेश, मुकेश और कल्याण के अलावा एक और अन्य युवक खड़ा था। चारों युवक नाबालिग का मुंह दबाकर उसे बोलेरो से सुनसान जगह स्थित कुएं के पास ले गए, जहां बोलेरो चालक सत्यनारायण जाट सहित राजेश, मुकेश, कल्याण व एक अन्य ने नाबालिग के साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद उसे व उसके भाई को जान से मारने की धमकी देकर घर के पास छोड़कर चले गए। नाबालिग के गुमसुम रहने पर परिजनों ने पूछताछ की तो उसने सारी आपबीती सुनाई। इस पर पिता ने फागी थाने में मामला दर्ज कराया। मामले की जांच दूदू वृत्ताधिकारी कुशाल सिंह कर रहे हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned