scriptWater Supply Department Drinking water supply Plan | अब सात दिन में पानी कनेक्शन, टंकियों की सफाई पर ऑनलाइन नजर | Patrika News

अब सात दिन में पानी कनेक्शन, टंकियों की सफाई पर ऑनलाइन नजर

locationजयपुरPublished: Jan 31, 2024 10:59:29 am

Submitted by:

Girraj Sharma

water supply department: जलदायन विभाग अब सात दिन में पानी का कनेक्शन जारी करेगा। हालांकि इसके लिए लोगों को ऑनलाइन आवेदन करना होगा। वहीं पानी की टंकियों की सफाई हर 6 माह में होगी, इसपर ऑनलाइन नजर रखी जाएगी, इसके लिए रिजर्वायर्स सफाई एप से मॉनिटरिंग की जाएगी।

अब सात दिन में पानी कनेक्शन, टंकियों की सफाई पर ऑनलाइन नजर
अब सात दिन में पानी कनेक्शन, टंकियों की सफाई पर ऑनलाइन नजर

जयपुर। जलदायन विभाग अब सात दिन में पानी का कनेक्शन जारी करेगा। हालांकि इसके लिए लोगों को ऑनलाइन आवेदन करना होगा। वहीं पानी की टंकियों की सफाई हर 6 माह में होगी, इसपर ऑनलाइन नजर रखी जाएगी, इसके लिए रिजर्वायर्स सफाई एप से मॉनिटरिंग की जाएगी। बीसलपुर से आ रही मुख्य पेयजल लाइन की भी मॉनिटरिंग की जाएगी।

जलदाय विभाग बल्क वाटर ट्रांसमिशन सिस्टम (बीसलपुर से टंकी तक पेयजल तंत्र) की स्काडा की ओर से मॉनिटरिंग को पुख्ता करेगा। इसके लिए एक कमेटी का गठन कर दिया गया है। मुख्य अभियंता (विशेष परियोजना) दिनेश गोयल इसके नॉडल ऑफिसर होंगे। यह कमेटी स्काडा सिस्टम को प्रभावी बनाने और डेटा शेयरिंग पर रिपोर्ट तैयार करेगी। इससे वॉटर ऑडिटिंग कर पानी की बर्बादी को कम किया जाएगा। पानी की टंकियों की सफाई की भी मोबाइल एप के माध्यम से मॉनिटरिंग की जाएगी। इसकी शुरुआत जयपुर से इसी माह होगी। विभाग ने मुख्य अभियंता (शहरी) के. डी. गुप्ता को इसका नोडल ऑफिसर बनाया गया है।

ऑनलाइन आवेदन करना पड़ेगा
नए नल कनेक्शन भी 7 दिन में जारी करने की तैयारी शुरू कर दी है। हालांकि लोगों को इसके लिए ऑनलाइन आवेदन करना पड़ेगा। इसके लिए विभाग राजनीर पोर्टल को और अधिक प्रभावी बनाएगा। इसके साथ ही विभाग के अन्य कामों को भी इस पोर्टल से जोड़ा जाएगा।

ऑनलाइन सिस्टम होगा प्रभावी
जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग में सचिव डॉ. समित शर्मा ने अफसरों को ऑनलाइन सिस्टम को अधिक प्रभावी बनाने और उसका उपयोग के निर्देश जारी कर दिए है। विभाग में डिजिटल लाइब्रेरी एवं डॉक्यूमेंटेशन स्थापित करने, मेटेरियल मेनेजमेंट मॉड्यूल को जेईएन स्टोर तक लागू करने तथा विधानसभा प्रश्नों के लिए एनआईसी की ओर से तैयार एप डीआरईएएमएस (ड्रीम्स) लागू करने के निर्देश दिए। हालांकि इसके लिए अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें

जेडीए व निगम में नहीं चलेगा 'खेल', अब 'फाइलों' से राज-काज बंद

कॉन्ट्रेक्टर्स का रजिस्ट्रेशन भी होगा ऑनलाइन
विभाग में कॉन्ट्रेक्टर्स का रजिस्ट्रेशन, फर्म का नवीनीकरण आदि प्रक्रिया अब सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग की ओर से विकसित पोर्टल के माध्यम से होगा। फिलहाल पीडब्लूडी में कॉन्ट्रेक्टर्स के रजिस्ट्रेशन, एम्पेनलमेंट सहित सभी काम इसी ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से किए जा रहे हैं।

ट्रेंडिंग वीडियो