बंदूक की गोली से ज्यादा कौन सी गोली आती है काम ,देखें कार्टूनिस्ट सुधाकर का दृष्टिकोण

बंदूक की गोली से ज्यादा कौन सी गोली आती है काम ,देखें कार्टूनिस्ट सुधाकर का दृष्टिकोण

By: Sudhakar

Updated: 09 Apr 2020, 12:09 AM IST


कोरोना वायरस ने लगभग पूरे विश्व को अपनी गिरफ्त में ले लिया है . बड़े-बड़े विकसित देशों की सरकारें भी अभी तक इस पर काबू नहीं कर पाई है यहां तक कि विश्व का सबसे शक्तिशाली देश माने जाने वाला अमेरिका भी इस वायरस की चपेट में बुरी तरह आ गया है और दहशत में है. यहां हजारों की तादाद में लोग अपनी जान गवां चुके हैं. प्रशासन लाख कोशिश करने के बावजूद नागरिकों में संक्रमण को फैलने से नहीं रोक पा रहा है अपने हथियारों और मजबूत आर्थिक स्थिति के दम पर दुनिया में अपनी धाक जमाने वाला देश अचानक ही असहाय नजर आने लगा है ऐसे में ऐसे में अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने कोविड-19 के इलाज में असरदार साबित हुई हाइड्रो क्लोरो क्वीन दवा के लिए भारत के सामने हाथ फैलाया . भारत इस दवा के प्रमुख उत्पादक देशों में से एक है. लेकिन इस महामारी ने एक बात को तो प्रमाणित कर दिया है कि कोई भी देश हथियारों के दम पर विश्व में अपनी सत्ता काबिज करने की कितनी भी कोशिश करें लेकिन जब जीवन बचाने का प्रश्न सामने आता है तो बंदूक की नहीं दवा की ही गोली काम में आती है . इसी सच को प्रभावी ढंग से प्रस्तुत किया है कार्टूनिस्ट सुधाकर ने

Corona virus
Sudhakar Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned