रेलवे ट्रेक पर हैडफोन लगाकर गाने सुनना पड़ा भारी, नहीं हुआ ट्रेन का आभास, युवक की गई जान

रेलवे ट्रेक पर हैडफोन लगाकर गाने सुनना पड़ा भारी, नहीं हुआ ट्रेन का आभास, युवक की गई जान

pushpendra shekhawat | Publish: Sep, 08 2018 06:46:22 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

अविनाश बाकोलिया / जयपुर। करधनी थाना इलाके में खिरणी फाटक पर सुबह कान में हैडफोन लगाकर रेलवे ट्रेक पार कर रहा एक युवक ट्रेन की चपेट में आ गया। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। सूचना मिलने पर करधनी थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में ले लिया।

 

पुलिस ने बताया कि मृतक मनीष गुप्ता (20) यूपी के कुशीनगर का रहने वाला था। वह यहां अपनी मौसी के भाई सुरेन्द्र गुप्ता के साथ किराए के मकान में रहता था। दोनों यहां रहकर मजदूरी करते थे। मनीष सुबह करीब सवा नौ बजे खिरणी फाटक पर रेलवे ट्रेक पार कर रहा था। इस दौरान बरेली एक्सप्रेस गुजर रही थी। मनीष ने कान में हैडफोन लगा रखा था। तेज आवाज में संगीत सुनने के कारण उसे रेल की आवाज सुनाई नहीं दी और वह ट्रेन की चपेट में आ गया। इससे उसकी मौके पर मौत हो गई।

 

नहीं हो पाया ट्रेन के आने का आभास

पुलिस के अनुसार मृतक मनीष रेलवे क्रॉसिंग के पास लाइन पार कर रहा था। उसने कान में ईयर फोन लगा रखा था। आशंका है कि उसका ध्यान ईयर फोन से गाने सुनने अथवा किसी से बात करने में था। उसे ट्रेन के आने का आभास तक नहीं हो पाया और वह अपनी धुन में रेलवे लाइन क्रॉस करने लगा। ट्रैक के पास पहुंचने पर उसे ट्रेन के आने का पता लगा। तब तक बहुत देर हो चुकी थी और ट्रेन ने उसे अपनी चपेट में ले लिया।

 

यहां भी लापरवाही पड़ी भारी
रेलवे ट्रेक पर खड़ी ट्रेन के नीचे से रेलवे लाइन क्रॉस करना शिकारपुरा सांगानेर निवासी कल्याण सेन को भारी पड़ गया। दूसरे ट्रेक पर आ रही ट्रेन की आवाज सुनकर वह घबरा गया। बचने का प्रयास किया, लेकिन उसकी चप्पल पटरी में फंस गई। चप्पल निकालने के दौरान वह ट्रेन की चपेट में आ गया और उसकी मौत हो गई। कल्याण सेन कंजोली भरतपुर का रहने वाला था।

 

उधर अशोक नगर इलाके में 22 गोदाम पुलिया के पास रेलवे ट्रेक पर 25 वर्षीय धीर सिंह ने ट्रेन के सामने कूदकर आत्महत्या कर ली। आत्महत्या के कारणों का खुलासा नहीं हो सका है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned