सहकारी बैंक एमडी से मिला भाजपा का प्रतिनिधि मंडल, बताई समस्याएं

जैसलमेर. भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष चंद्रप्रकाश शारदा के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मंडल ने केंद्रीय सहकारी बैंक के प्रबंध निदेशक से मिलकर किसानों के खातों में जमा राशि उठाने फसल बीमा क्लेम का भुगतान करवाने एवं डिफरेंट भुगतान 7 दिन में करने की मांग की है

By: Deepak Vyas

Published: 02 Aug 2020, 08:48 AM IST

जैसलमेर. भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष चंद्रप्रकाश शारदा के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मंडल ने केंद्रीय सहकारी बैंक के प्रबंध निदेशक से मिलकर किसानों के खातों में जमा राशि उठाने फसल बीमा क्लेम का भुगतान करवाने एवं डिफरेंट भुगतान 7 दिन में करने की मांग की है। जिलाध्यक्ष चंद्रप्रकाश शारदा ने बताया कि किसानों के 2019 के फसल बीमा क्लेम उनके खाते में जमा होने के उपरांत भी किसान खाताधारकों को खाते से रकम नहीं निकाल दी जा रही है। पूर्व विधायक छोटूसिंह भाटी ने सुल्ताना जीएसएस मे सात करोड़ रुपए बीमा क्लेम आने के उपरांत भी किसानो को भुगतान नही किया जा रहा है। कुछ किसानों को चेक दिए गए हैं, जो इधर-उधर भटक रहे है, जबकि आज के ऑनलाइन युग मे खातों में सीधे ही राशि जमा करवाने का प्रावधान है । महामंत्री सुशील व्यास ने केंद्रीय सहकारी बैंक के प्रबंध निदेशक से मांग की कि जिन किसानों के खाते में फसली ऋण की सीमा बढ़ाकर राशि जमा की गई है, वह अंतर राशि का भुगतान किसानों को नहीं हो रहा है, जिन खातों में 25000 का फसली ऋण दिया गया था, वह राशि जमा कराते हुए ऋण सीमा 31,000 की गई थी, जिसका भुगतान नहीं किया जा रहा है, वह भुगतान शीघ्र किया जाए, साथ ही विगत वर्षों के फसल बीमा क्लेम की राशि नहीं आने के बारे में विस्तार से चर्चा की गई है । प्रतिनिधिमंडल को प्रबंध निदेशक ने शीघ्र ही फसली ऋण खातों के भुगतान व बीमा क्लेम का भुगतान का आश्वासन दिया । प्रतिनिधिमंडल ने सात दिन मे भुगतान न होने पर विरोध कर किसान वर्ग की राहत के लिए उच्च स्तरीय कार्रवाई होगी। प्रतिनिधिमंडल मे महामंत्री सवाईसिंह गोगली, मंत्री कंवराजसिंह चौहान, युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष मनोहर दामोदरा, उदयसिंह बडोडा गांव, मनोहरसिंह कुंडा, मालसिंह जामड़ा आदि शामिल थे।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned