जिला परिषद में कांग्रेस का खाता खुला, दरिया कंवर निर्विरोध निर्वाचित

-निर्वाचन क्षेत्र 4 से भाजपा की राजी देवी का नामांकन खारिज
-सम व जैसलमेर समितियों में भाजपा के आधा दर्जन उम्मीदवारों के पर्चे खारिज

By: Deepak Vyas

Updated: 11 Nov 2020, 08:36 PM IST


जैसलमेर. पंचायतीराज संस्थाओं के चुनाव से पहले नामांकन पत्रों की समीक्षा में ही विपक्षी भाजपा बैकफुट पर आ गई। मिस मैनेजमेंट की शिकार इस पार्टी के जिला परिषद में दो और सम तथा जैसलमेर पंचायत समितियों में छह प्रत्याशियों के नामांकन पत्र नियमों की पालना नहीं किए जाने के चलते खारिज कर दिए गए। इससे जिला परिषद के वार्ड नं. 4 खुहड़ी में तो कांग्रेस की दरिया कंवर निर्विरोध निर्वाचित हो गई क्योंकि यहां कांग्रेस-भाजपा में आमने-सामने का मुकाबला था। भाजपा की राजी देवी का नामांकन समीक्षा में ज्यादा बच्चों के मामले में खारिज कर दिया गया। इसी तरह से जिला परिषद के वार्ड नं. 3 सियोबर जहां से कांग्रेस की पूर्व जिला प्रमुख अंजना मेघवाल उम्मीदवार है, वहां भाजपा की हरिया का नामांकन खारिज हो गया। इस तरह से 17 सदस्यीय जिला परिषद में भाजपा के अब महज 13 उम्मीदवार ही मैदान में रह गए हैं। पार्टी ने पहले ही 2 वार्डों में प्रत्याशी नहीं उतारे हैं।
समितियों में भी भाजपा पिछड़ी
नामांकन पत्र जमा करवाने में गलतियां करने की सजा भाजपा ने सम और जैसलमेर पंचायत समितियों में भी भुगती है। सम समिति के 1 (तनोट), 2 (रामगढ़), 6 (हरनाऊ और 8 (सगरों की बस्ती) तथा जैसलमेस समिति में वार्ड 4 (बड़ाबाग) व 8 (कीता) में उसके प्रत्याशियों के नामांकन पत्र खारिज हो गए। सम पंचायत समिति के वार्ड सं. 12 में एकमात्र निर्दलीय उम्मीदवार प्रेमनाथ ने ही पर्चा भरा था, इसलिए उन्हें निर्विरोध निर्वाचित घोषित कर दिया गया है। भाजपा जिलाध्यक्ष चंद्रप्रकाश शारदा ने कहा कि पार्टी से जल्दबाजी में नामांकन जमा करवाने में गलतियां रही। जिसका उसे नुकसान हुआ है।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned