संविदाकर्मियों ने बंद किया कार्य, मरीज हुए परेशान

- स्वैच्छिक सेवाएं नहीं देने से बढ़ी परेशानी

By: Deepak Vyas

Published: 02 Mar 2021, 08:44 PM IST


पोकरण. राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में सोमवार को सुबह उस समय चिकित्साधिकारियों व कार्मिकों में हड़कंप मच गया, जब यहां कार्यरत संविदाकर्मियों ने सोमवार से कार्य बंद कर दिया। जिसके कारण अस्पताल के कई महत्वपूर्ण कार्य प्रभावित हुए तथा मरीजों को भी परेशानी हुई। गौरतलब है कि अस्पताल में विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत करीब डेढ़ दर्जन कर्मचारी संविदा पर कार्यरत है। जिन्हें फरवरी माह तक मानदेय का भुगतान किया गया तथा चिकित्सालय प्रभारी की ओर से उन्हें मार्च माह में मानदेय देने से मना कर दिया गया। ऐसे में सोमवार को संविदाकर्मियों ने एक बैठक की। उन्होंने बैठक में निर्णय लिया कि यदि उन्हें मानदेय का भुगतान नहीं किया जाता है, तो वे कार्य नहीं करेंगे। ऐसे में सोमवार को किसी भी संविदाकर्मी ने अस्पताल का कार्य नहीं किया। जिसके कारण नियमित कर्मचारियों को उनका कार्य करना पड़ा। जिससे कार्यों में देरी हुई तथा मरीजों को परेशानी से रूबरू होना पड़ा।
16 कर्मचारी है कार्यरत
अस्पताल सूत्रों के अनुसार मुख्यमंत्री नि:शुल्क दवा वितरण योजना व मुख्यमंत्री नि:शुल्क जांच योजना के अंतर्गत कुल 16 संविदाकर्मी अस्पताल में कार्यरत है। वे हेल्पर, कम्प्यूटर ऑपरेटर व फार्मासिस्ट के पदों पर कार्य कर रहे है। उनकी ओर से मरीजों की पर्ची ऑनलाइन करने, दवा वितरण का कार्य ऑनलाइन करने, दवा वितरण केन्द्रों पर मरीजों को दवाइयां देने, स्टोर में दवाओं का ऑनलाइन संधारण करने, जननी शिशु सुरक्षा योजना, राजश्री योजना के तहत प्रसूताओं को भुगतान करने, जन्म-मृत्यु पंजीकरण करने जैसे कार्य किए जा रहे है।
लगी भीड़, हुई परेशानी
अस्पताल में एक साथ 16 संविदाकर्मियों की ओर से कार्य बंद कर दिए जाने के कारण एकबारगी अस्पताल प्रशासन में हड़कंप मच गया। नियमित कर्मचारियों ने संविदाकर्मियों का काम संभाला तथा मरीजों को राहत दिलाने का प्रयास किया, लेकिन सोमवार को मरीजों की भीड़ अधिक होने के कारण उन्हें खासी परेशानी हुई। पर्ची व दवाइयों का कार्य सोमवार को ऑनलाइन नहीं हो पाया। इसके अलावा अन्य कार्य भी प्रभावित हुए। जिसके कारण मरीज व उनके परिजन चक्कर काटते नजर आए।
अपील भी नहीं आई काम
मानदेय का भुगतान नहीं होने के कारण संविदाकर्मियों ने सोमवार को कार्य बंद कर दिया। जिस पर अस्पताल के प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ.प्रकाश चौधरी ने एक पत्र जारी कर सभी संविदाकर्मियों को मानदेय की गाइडलाइन आने तक स्वैच्छिक सेवाएं देने की अपील की, लेकिन किसी कर्मचारी ने उनकी अपील को नहीं माना और कार्य का बहिष्कार किया।
करवाया गया है अवगत
संविदाकर्मियों को मार्च माह में भुगतान से संबंधित कोई गाइडलाइन नहीं मिली है। संविदा पर लगे कार्मिकों ने सोमवार को कार्य बंद कर दिया। उनसे स्वैच्छिक सेवाओं की अपील की गई है। इस संबंध में उच्चाधिकारियों को भी अवगत करवाया गया है।
- डॉ.प्रकाश चौधरी, प्रभारी चिकित्साधिकारी राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, पोकरण।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned