आबकारी का डिपो मैनेजर 10 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार

- एसीबी ने जैसलमेर में की कार्रवाई
- शराब लोडिंग-अनलोडिंग के लिए ले रहा था रिश्वत

By: Deepak Vyas

Published: 06 Mar 2021, 10:43 AM IST

जैसलमेर- शराब लोडिंग-अनलोडिंग के लिए रिश्वत लेने वाला आबकारी का डिपो मैनेजर महेंद्रसिंह 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के हत्थे चढ़ा है। ब्यूरो ने उसे राजस्थान स्टेट बेवरेज काॅर्पोरेशन लिमिटेड के जैसलमेर स्थित कार्यालय से शुक्रवार को रंगे हाथों गिरफ्तार किया। ब्यूरो के दल ने उसके पास से 10 हजार रुपए की रिश्वत राशि बरामद की है। ब्यूरो की यह कार्रवाई नए उपअधीक्षक अन्नराजसिंह राजपुरोहित के नेतृत्व में अंजाम दी गई।
12 हजार पहले ले चुका
ब्यूरो के उपअधीक्षक राजपुरोहित ने पत्रकारों को बताया कि परिवादी श्रमिक ठेकेदार आमसिंह पुत्र चैनसिंह निवासी भूंगरा, तहसील शेरगढ़, जिला जोधपुर ने गत 3 मार्च को इस आशय की शिकायत ब्यूरो में दर्ज करवाई थी कि स्टेट बेवरेज काॅर्पोरेशन का इंस्पेक्टर महंेद्रसिंह पुत्र फूलाराम मेघवाल निवासी गाडाखेड़ा, तहसील भुवाना, जिला झुंझुनूं द्वारा श्रमिकों की ओर से शराब पेटी लोडिंग-अनलोडिंग करने पर प्रति पेटी एक रुपए के हिसाब से और ट्रक चालक द्वारा डाला खोलने व बंद करने पर दी जाने वाली इनाम राशि का पूरे महीने का हिसाब लगाकर गत जनवरी माह में 22 हजार रुपए की रिश्वत मांगी जा रही है। इसमें से 8000 रु. उसने पूर्व में ले लिए। ब्यूरो ने गत 3 मार्च को ही शिकायत का सत्यापन करवाया, उस दिन महेंद्रसिंह ने 4000 रुपए लिए तथा शुक्रवार को बकाया 10 हजार लेते समय वह रंगे हाथों पकड़ा गया। उपअधीक्षक ने बताया कि रिश्वत लेने के आरोपी महेंद्रसिंह के खिलाफ अग्रिम तौर पर जांच जारी है।

आबकारी का डिपो मैनेजर 10 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार
Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned