2500 रुपए की नकली भारतीय मुद्रा के साथ एक गिरफ्तार

पुलिस ने मिलिट्री इंटेलीजेंसी की इनपुट के बाद बड़ी कार्रवाई करते हुए नकली भारतीय मुद्रा के साथ एक जने को गिरफ्तार किया।

जैसलमेर/पोकरण. पुलिस ने मिलिट्री इंटेलीजेंसी की इनपुट के बाद बड़ी कार्रवाई करते हुए नकली भारतीय मुद्रा के साथ एक जने को गिरफ्तार किया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राकेश बैरवा ने बताया कि जिला पुलिस अधीक्षक के निर्देशानुसार राष्ट्रीय सुरक्षा एवं जाली मुद्रा से जुड़े मामलों को लेकर विशेष अभियान चलाया जा रहा है। इसी के अंतर्गत पोकरण पुलिस ने नकली नोटों के साथ एक जने को गिरफ्तार किया है। वह नोट कहां से लाया तथा उसके पास और कितने नोट है, जिसको लेकर पूछताछ की जा रही है। टीम ने मिलीट्री इंटेलीजेंसी व अन्य सुरक्षा एजेंसियों से मिल रहे इनपुट एवं मुखबिरों, तकनीकी सहायता से नकली भारतीय मुद्रा के साथ एक जने को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की।
संदिग्ध की ली तलाशी, तो मिली मुद्रा
उन्होंने बताया कि गुरुवार को मुखबीर से सूचना मिली कि बस स्टैण्ड पर एक व्यक्ति नकली नोट लेकर घूम रहा है और चलाने की फिराक में है। जिस पर पुलिस टीम एसबीआई के कर्मचारी भरतसिंह के साथ कस्बे में युवक की तलाशी के लिए निकली। टीम ने रेलवे स्टेशन रोड पर घूम रहे एक संदिग्ध युवक को पकडक़र पूछताछ की, तो उसने अपना नाम बाड़मेर जिलांतर्गत सिणधरी थानाक्षेत्र के सोढ़ों की ढाणी निवासी शैतानसिंह पुत्र मांगूसिंह राजपुरोहित बताया। उसकी तलाशी ली, तो उसके पास से 100 के 20 व 500 का एक नोट बरामद हुआ। इन नोटों की जांच करने पर वाटरमार्क पर महात्मा गांधी का फोटो नहीं दिख रहा था। सभी नोटों के अंक चमकहीन थे तथा सुरक्षा धागे पर आरबीआई व भारत नहीं छपा था। बैंककर्मी ने सभी नोटों को नकली बताया। जिस पर युवक शैतानसिंह को गिरफ्तार कर नोट जब्त किए गए।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned