scriptUnion Home Minister saw the security system, encouraged the security g | केन्द्रीय गृह मंत्री ने देखी सुरक्षा व्यवस्था, सुरक्षा प्रहरियों का बढ़ाया हौसला | Patrika News

केन्द्रीय गृह मंत्री ने देखी सुरक्षा व्यवस्था, सुरक्षा प्रहरियों का बढ़ाया हौसला

-तनोट मंदिर में की पूजा-अर्चना, सीसुब के स्थापना दिवस कार्यक्रम में आज करेेंगे शिरकत

जैसलमेर

Updated: December 05, 2021 09:38:34 am

दो दिवसीय दौरे पर जैसलमेर पहुंचे केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह शनिवार को सरहदी क्षेत्र के दौरे पर रहे। उन्होंने सरहद की निगेहबान मानी जाने वाली तनोट माता के दर्शन किए और सरहदी चौकी रोहिताश जाकर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। उन्होंंने सुरक्षा प्रहरियों की पीठ थपथपाकर हौसला बढ़ाया और उनके साथ फोटो भी खिंचवाए। केन्द्रीय गृह मंत्री शाह निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार दोपहर करीब ढाई बजे जैसलमेर एयरफोर्स स्टेशन पहुंचे। यहां उनकी भाजपा नेताओं ने अगवानी की। विशेष विमान से पहुंचे गृह मंत्री शाह यहां से सीधे हेलीकॉप्टर से तनोट माता के मंदिर दर्शन करने को रवाना हुए।

केन्द्रीय गृह मंत्री ने देखी सुरक्षा व्यवस्था, सुरक्षा प्रहरियों का बढ़ाया हौसला
केन्द्रीय गृह मंत्री ने देखी सुरक्षा व्यवस्था, सुरक्षा प्रहरियों का बढ़ाया हौसला

तनोट पहुंचने पर सीमा सुरक्षा बल के सुरक्षा प्रहरियों ने उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया। गौरतलब है कि पाक सीमा से सटे सरहदी जैसलमेर जिले में आने से पूर्व उन्होंने ट्वीट किया था कि अपने दो दिवसीय प्रवास पर वीरभूमि राजस्थान में रहूंगा, जिसमें आज जैसलमेर में बीएसएफ के बॉर्डर आउट पोस्ट पर बहादुर जवानों से मुलाकात करुंगा। तनोट क्षेत्र में शाह ने वीर जवानों की स्मृति में विजय स्तंभ पर पुष्प चक्र अर्पित कर शहीदों को श्रद्धांजलि दी। शाह के साथ केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्रसिंह शेखावत व बीएसएफ के अधिकारी भी मौजूद रहे। सफेद कुर्ते पायजामे व हॉफ जेकेट पहने शाह ने बीएसएफ की टोपी भी पहन रखी थी। वे मंदिर में कुछ देर रुके और करीब दस मिनट तक विधिवत पूजा अर्चना की।

उन्होंने सुरक्षा प्रहरियों के साथ फोटो भी खिंचवाई और हौसला अफजाई की। गृह मंत्री के सरहदी जिले में दौरे को लेकर सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट मोड पर है। उनके आगमन व ठहराव को देखते हुए तनोट क्षेत्र में सुरक्षा प्रबंध कड़े किए गए और निगरानी तंत्र को बढ़ाया गया। तनोट क्षेत्र से शाह सीमा चौकी रोहिताश पहुंचे और सरहद की सुरक्षा के लिए इंतजामों की जानकारी ली। यहां सैनिक सम्मेलन में उन्होंने सुरक्षा प्रहरियों को संबोधित करते हुए विकट परिस्थितियों में उनके धैर्य, ताकत व बुलंद हौसलों की सरहना की।

यहां कमांडेंट एसएन पांडे ने उन्हें पाक से सटे जैसलमेर बॉर्डर पर सीसुब की ताकत व तकनीक से संबंधित संसाधनों व नफरी की जानकारी दी। रोहिताश चौकी क्षेत्र से उन्होंने धोरों के बीच सूर्यास्त के नजारे को निहारा। यहां से वे बड़े खाने में शरीक हुए। इस दौरान लोक संस्कृतिक व देशभक्ति गीतों से सराबोर सांस्कृतिक संध्या का भी आयोजन किया गया। रोहिताश में ही उन्होंने रात्रि विश्राम किया। शाह के साथ केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्रसिंह शेखावत व बीएसएफ के महानिदेशक पंकज कुमार सिंह व अतिरिक्त महानिदेशक निदेशक एसएन जामवाल, सीसुुब महानिरीक्षक पंकज घूमर सहित अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे।

शाह का सरहदी क्षेत्र में पहला दिन
-दोपहर 2:30 बजे पहुंचे जैसलमेर एयरपोर्ट स्टेशन
-दोपहर 3:30 बजे तनोट में विशेष हेलीकॉप्टर से पहुंचे
-10 मिनट तक तनोट मंदिर में की पूजा- अर्चना
-शाम 5:45 बजे सीमा चौकी रोहिताश पहुंचे।
-20 मिनट तक रोहिताश चौकी की ओपी पाइंट पर रुके।
-10 मिनट तक रोहिताश चौकी क्षेत्र में सीसुब अधिकारी ने सरहद की सुरक्षा व्यवस्था को ब्रीफ किया।
-रात 8 बजे बड़े खाने में सुरक्षा प्रहरियों के साथ बातचीत करते हुए शामिल हुए। इस दौरान सांस्कृतिक संध्या भी हुई।

आज स्वर्णनगरी में केन्द्रीय गृह मंत्री
रविवार को वे जैसलमेर के पूनम स्टेडियम में बीएसएफ के 57 वें स्थापना दिवस पर आयोजित होने वाले कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर शिरकत करेंगे। यहां 156 बटालियन की ओर से सुबह करीब सवा नौ बजे शहीद पूनमसिंह स्टेडियम में आयोजित होने वाले राइजिंग डे परेड में वे शिरकत करेंगे। यहां से वे विमान से जयपुर प्रस्थान कर जाएंगे।

कलाकारों ने कहा- पधारो म्हारे देश
सरहदी क्षेत्र में केन्द्रीय गृह मंत्री शाह के स्वागत में रात्रि में सांस्कृतिक संध्या का आयोजन भी हुआ। इसका आगाज लोक कलाकारों की ओर से पधारो म्हारे देश से किया गया। लोक कलाकारों के अलावा सीसुब के जवानों ने भी देशभक्ति गीतों की प्रस्तुतियां दी।

जवानों को दिए मेडिकल कार्ड
सरहदी दौरे पर आए केन्द्रीय गृह मंत्री शाह ने सीसुब जवानों को मेडिकल कार्ड भी दिए। इस कार्ड से सीसुब सहित केन्द्रीय पुलिस सेवा से जुड़े परिवारों को उपचार संबंधी सहायता मिल सकेगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.