ऐसी दर्दनाक हालत में मिली मासूम भाई-बहन की लाश, देखने वाले भी नहीं रोक सके आंसू

ऐसी दर्दनाक हालत में मिली मासूम भाई-बहन की लाश, देखने वाले भी नहीं रोक सके आंसू

Ruchi Sharma | Publish: Sep, 02 2018 04:50:18 PM (IST) | Updated: Sep, 02 2018 04:55:46 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

ऐसी दर्दनाक हालत में मिली मासूम भाई-बहन की लाश, देखने वाले भी नहीं रोक सके आंसू

जालौन. जनपद में बेहद दु:खद और दर्दनाक हादसा हुआ है। जहां मूसलाधार बारिश के कारण एक मकान की कच्ची दीवार गिर गई। दीवार की चपेट में आने से मासूम भाई बहन उसमें दब गये। इस हादसे को देख परिजन मौके पर पहुंचे और उन्होंने मलवे में दबे दोनों मासूमों को बाहर निकालने का प्रयास किया। जब तक परिजनों ने मलबा हटाया तब दोनों मासूमों की मौत हो चुकी थी। इस हादसे की जानकारी मिलते ही कालपी एसडीएम और तहसीलदार पुलिस के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और परिवार को सांत्वना दी साथ ही आर्थिक सहायता देने की बात कही।

घटना चुर्खी थाना क्षेत्र के ग्राम अटरा कला की है। बता दें कि जिले में पिछले 3 दिनों से मूसलाधार बारिश हो रही है और यह बारिश कच्चे मकानों पर कहर बनकर टूट रही है और इसी का कहर कालपी तहसील के ग्राम अटरा कला में देखने को मिला। यहां के रहने वाले मानसिंह के कच्चे मकान की दीवार पानी के कारण ढह गई। दीवार ढहने से वहां पर खड़े मानसिंह का 2 साल पुत्र युवराज और उसकी तीन साल की पुत्री श्रृष्टि चपेट में आ गई।

 

जिस कारण दोनों मासूम भाई बहन मलबे में दब गये। इस घटना को देख घर के लोगों में अफरा-तफरी मच गयी और वह मौके पर पहुंचे। जहां उन्होंने दीवार का मलबा निकाला। कड़ी मशक्कत के बाद परिजनों ने मलबा निकाला तब तक दोनों भाई बहन की मौत हो गयी थी।

 

दोनों के शव देख पूरे परिवार में कोहराम मच गया है। इस घटना की जानकारी मिलने के बाद एसडीएम सुनील शुक्ला और तहसीलदार शालिगराम के साथ चुर्खी थाना प्रभारी मौके पर पहुंचे और उन्होंने घटना स्थल का मुआयना किया। एसडीएम ने घटना स्थल का मुआयना करने के बाद परिजनों से मिले और उन्हे सांत्वना दी साथ ही आर्थिक सहायता देने की बार कही। बाद में पुलिस ने दोनों शवों को कब्जे में लेकर दोनों मासूमों के शवों का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया है।

Ad Block is Banned