70 लाख से बनेगी कोड़ी नदी पर रपट

70 लाख से बनेगी कोड़ी नदी पर रपट
Built the 'Rapat' on Kodi river bhinmal form Rs.70 Lac

Dharmendra Ramawat | Updated: 30 Jun 2018, 11:59:29 AM (IST) Jalore, Rajasthan, India

दिसंबर माह तक तैयार होगी कोड़ी नदी की रपट व जेतपुरा नदी पर बही सड़क

भीनमाल. रानीवाड़ा-मण्डार रोड पर गत साल बाढ़ के दौरान कोड़ी व जेतुपरा नदी पर बही रपट व सड़क का शीघ्र ही नवीनीकरण होगा। इन दोनों स्थानों पर रपट के नवीनीकरण होने से बारिश के 2.20 करोड़ रुपए व्यय होंगे। हालांकि इस बारिश में तो नदी में पानी का बहाव होने पर वाहनों के पहिए थम जाएंगे, लेकिन इसके बाद नदी के बहाव के दौरान भी रपट से वाहन सरपट गुजर सकेंगे। नदी पर रपट बनाने के लिए सरकार की ओर से स्वीकृति मिलने के बाद भी सार्वजनिक निर्माण विभाग ने कवायद शुरू कर दी है। रानीवाड़ा-मण्डार मार्ग गुजरात व दक्षिण भारत के विभिन्न शहरों को जोडऩे वाला मुख्य मार्ग है। गत साल बाढ़ के दौरान पानी के तेज बहाव में यहां पर रपट व सड़क बह गई। ऐसे में कई दिनों तक यहां पर आवागमन भी बाधित रहा। सार्वजनिक निर्माण विभाग की ओर से यहां पर कच्चा वैकल्पिक मार्ग का निर्माण करवाया, लेकिन नदी में पानी का बहाव होने पर यातायात अवरूद्ध हो जाता है। सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारियों का कहना है कि कोड़ी नदी की रपट व जेतपुरा नदी पर सड़क बनाने के लिए टैण्डर लगा दिए है। कोड़ी नदी की रपट के नवीनीकरण पर 70 लाख व जेतपुरा नदी के सड़क के निर्माण पर 1.50 करोड़ रुपए व्यय होंगे। सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारियों का कहना है कि विधायक पूराराम चौधरी व रानीवाड़ा विधायक नारायणसिंह देवल के प्रयास से इन कामों के नवीनीकरण की स्वीकृति मिली है। दरअसल, बारिश के दिनों में नदी में पानी का बहाव होने पर दर्जनों गांवों का आपस में संपर्क कट जाता है।
कोड़ी पर 70 व जेतपुरा में 450 मीटर में होगा नवीनीकरण
सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारियों का कहना है कि कोड़ी नदी पर रपट के निर्माण करीब 70 मीटर चौड़ाई में रपट का नवीनीकरण होगा। रपट की चौड़ाई 7.5 मीटर होगी। रपट के नीचे से पानी के बहाव के लिए एक-एक मीटर चौड़ाई के 15 पाइप भी लगाएं जाएंगे। अधिकारियों का कहना है कि गत साल पानी के बहाव के दौरान रपट का जो भाग टूटकर पानी में बह गया था, उसका नवीनीकरण होगा। इसके अलावा जैतपुरा नदी पर बही 450 मीटर सड़क का भी नवीनीकरण होगा। सडक की ऊंचाई बढ़ाकर पानी के निकासी के लिए एक-एक मीटर चौड़ाई के पाइप भी लगाएं जाएंगे।
गुजरात व जालोर को जोडऩे वाला मुख्य मार्ग
रानीवाड़ा रोड व मण्डार रोड जिले को गुजरात व दक्षिण भारत के विभिन्न शहरों को जोडऩे वाला मुख्य मार्ग है। यहां से रोजाना दर्जनों की संख्या में बड़ी संख्या में वाहन गुजरते है। यहां से गुजरात के मेहसाना, पालनपुर, अहमदाबाद, सूरत, बदौड़ा, मुंबई, पुना सहित कई महानगरों के लिए वाहन गुजरते है। खासकर विभिन्न दुर्घटनाओं में घायलों को गुजरात रैफर करने के दौरान खासी परेशानी उठानी पड़ती है।
टैण्डर लगा दिए हैं...
कोड़ी नदी पर रपट व जेतपुरा नदी पर सड़क के निर्माण के लिए टैण्डर लगा दिए है। कोड़ी नदी व जेतपुरा नदी से ही गुजरात व दक्षिण भारत की ओर आवाजाही करने वाले वाहन गुजरते है। इससे लोगों को काफी फायदा होगा। नदी पर स्वीकृत दिलवाने के लिए विधायक पूराराम चौधरी व रानीवाड़ा विधायक नारायणसिंह देवल ने काफी प्रयास कर स्वीकृति जारी करवाई।
- राकेश चन्द्र माथुर, एक्सईएन, पीडब्ल्यूडी, भीनमाल
प्रयास कर स्वीकृति दिलवाई...
आम जनता की मांग पर कोड़ी नदी पर रपट के निर्माण के लिए 70 लाख व जेतपुरा नदी पर सड़क के नवीनीकरण के लिए 1.50 करोड़ की स्वीकृति दिलवाई गई है। स्वीकृति के लिए पिछले एक साल से काफी प्रयास किए है। यह कार्य होने पर वाहन चालकों को काफी सुविधा होगी।
- नारायणसिंह देवल, विधायक-रानीवाड़ा
रपट बनने से यात्रियों को सुविधा होगी...
बारिश के दिनों में कोड़ी नदी पर पानी के बहाव के दौरान हर बार यातायात अवरूद्ध हो जाता है। ऐसे में यातायात अवरूद्ध होने से स्थानीय यात्रियों ही नहीं, बल्कि अन्य राज्यों व शहरों से आने वाले वाहनचालकों को भी काफी परेशानी उठानी पड़ती है। रपट के नवीनीकरण से जिला मुख्यालय व गुजरात तक आवाजाही में सुविधा होगी।
- किशोर माली, सुंधामाता

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned