चोरों का नया पैतरा...कुत्ते से बचने के लिए कुछ इस तरह करते हैं चोरी

चोरों का नया पैतरा...कुत्ते से बचने के लिए कुछ इस तरह करते हैं चोरी
Give meat with sleeping pills to dog, after then stolen

Dharmendra Ramawat | Updated: 15 Jun 2018, 11:20:01 AM (IST) Jalore, Rajasthan, India

मांस में मिलाकर कुत्ते को खिलाई नींद की गोलियां, फिर चोरी की वारदात को अंजाम, सायला पुलिस ने किया चोरी का राजफाश...

जालोर/सायला. पुलिस अधीक्षक के निर्देशानुसार जिले में हो रही मंदिरों में चोरी के खुलासे व सम्पति संबंधी अपराधों की रोकथाम को लेकर चलाए जा रहे अभियान के तहत पुलिस ने जिले के विभिन्न मंदिरों में चोरी की वारदात के आरोपितों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। चोर इतने शातिर थे कि मालवाड़ा के पास कोटड़ा के आंद्रेश्वर महादेव मंदिर में चोरी के प्रयास के दौरान पालतू कुत्ते के बार-बार भौंकने पर चौथे प्रयास में मांस में नींद की गोलियां डालकर उसके सामने फैंकी गई। नींद की गोली मिला मांस खाने पर कुत्ते को नींद आने के बाद उन्होंने मंदिर में चोरी की वारदात को अंजाम दिया था।
सायला थानाधिकारी सवाईसिंह के नेतृत्व में गठित टीम ने चोरी के आरोपितों को गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार चामुण्डा माता मंदिर, रेवतड़ा में 26 व 27 मई की रात्रि को अज्ञात चोर मंदिर में प्रवेश कर दरवाजे का ताला तोड़कर अंदर रखे दानपात्रका ताला तोड़कर अंदर रखी नकदी चुराकर ले गए थे।
जिस पर थानाधिकारी सवाईसिंह के नेतृत्व में गठित टीम ने संदिग्धों से पूछताछ व तलाशी अभियान के दौरान धोराढाल, मालियों का वास भीनमाल निवासी चन्दन कुमार पुत्र सोनाराम माली, पुनासा हाल नरतारोड भीनमाल निवासी रमेश कुमार पुत्र वजाजी जाति संत, रामदेव रोड पाली हाल भेस्ताना सूरत निवासी अशोक कुमार उर्फ अशोकभाई पुत्र मदनलाल जाति जोशी को दस्तयाब कर पूछताछ की। पूछताछ के दौरान उन्होंने जालोर जिले में मंदिरों में चोरी करने की वारदातों को करना स्वीकार किया। रेवतड़ा चामुण्डा माता मंदिर की वारदात में शरीक चंदन माली व रमेश संत को गुरुवार को गिरफ्तार किया गया।आरोपितों से चोरी हुई नकदी बरामदगी के संबंध में अनुसंधान जारी है। वहीं अशोक जोशी मालवाड़ा के कोटड़ा महादेव मंदिर चोरी में शरीक होने से रानीवाड़ा पुलिस को सुपुर्द करेंगे।
वारदात से पहले मंदिरों में रैकी
चोरी प्रकरण में गिरफ्तार चंदन माली, रमेश संत व अशोक जोशी पहले मोटरसाइकिल पर मंदिरों में दर्शन के बहाने भण्डारा में सिक्के डालकर अंदर नकदी होने की परख कर व आने-जाने का स्थान की जानकारी लेते थे। इसके बाद रात्रि में जाकर वारदात करते थे। कोटडा (रानीवाड़ा) बड़े महादेव मंदिर में पालतू कुत्ते के बार-बार भौंकने पर चौथे प्रयास में कुत्ते के लिए मांस के अंदर नींद की गोलिया मिलाकर खिलाई गई।
इन मंदिरों में की वारदात
प्रारम्भिक पूछताछ में आरोपितों ने सारीयाणा (महादेव मंदिर गावं से बाहर), चाटवाड़ा (बस स्टैण्ड पर महादेव रामदेव मंदिर), निम्बोड़ा (विष्णु भगवान का मंदिर), वागावास (वो मंदिर जिसकी प्रतिष्ठा होने के चार दिन बाद चोरी हुई), फैदाणी (गांव से बाहर महादेव मंदिर) व मालवाडा (कोटडा का आन्ध्रेश्वर महादेव मंदिर) में रात्रि के समय भण्ड़ारा को तोडकर नकदी चुराना स्वीकार किया है।
ये मंदिर भी निशाने पर
चोरों के अक्सर मंदिरों में निशाना बनाकर चोरी करते थे। चोरों के निशाने पर खेतेश्वर मंदिर, बिजरोलखेड़ा, दामण (बागोड़ा), दादाल(सायला), चांदूर(रामसीन), जसवंतपुरा में रेवदर रोड़ का जैन मंदिर, सरत का जैन मंदिर, सांथू, बाकरारोड, नून(बागरा), बासडाधनजी(रामसीन), सांफाड़ा, कैलाश धाम महादेव मंदिर, बिशनगढ़ (जालोर) में मोटरसाइकिल के जरिए रैकी की गई। इन स्थानों पर गार्ड व मंदिर परिसर में रात्रि में पुजारी के निगरानी में सोने से वारदात करने में सफल नहीं हुए।
चंदन माली है गिरोह का सरगना
मंदिरों में चोरी की वारदात का सरगना चंदन माली है। यह पूर्व में पुलिस थाना भीनमाल, रामसीन, रानीवाड़ा जिला जालोर, कालन्द्री जिला सिरोही एवं डीसा (गुजरात) में एक दर्जन मंदिर व मकानों में नकबजनी के प्रकरणों में जेल जा चुका है। करीब साल भर पहले ही जेल से छूटा था।भीनमाल कृषि मण्डी के सामने श्रीनाथ फास्टफूड होटल चलाता है। वहीं रमेश संत भीनमाल में चार साल से अखबार बांटने/हॉकर का काम करने के दौरान चंदन माली से दोस्ती हुई व हॉकर का काम छोड चोरी की प्लानिंग बनाई। वहीं अशोक जोशी वर्ष 2012 में पालगांव बाइपास पर एक बुजुर्ग महिला को बंधक बनाकर सोने के जेवरात लूटने के मामले में दो साल जेल जा चुका है। बडे मंदिरों में चोरी करने के लिए चंदन माली ने अशोक को सुरत से बुलाया था।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned