सरहद में बह रही नर्मदा, गांव में खारे पानी की तैयारी

रणोदर में विभाग कर रहा खारे पानी के ट्यूबवेल से सप्लाई की तैयारी

By: Dharmendra Kumar Ramawat

Published: 27 Apr 2018, 11:10 AM IST

चितलवाना. रणोदर गांव की सरहद में भले ही नर्मदा नहर बह रही है, लेकिन गांव में रहने वाले लोगों की प्यास बुझाने के लिए खारे पानी के ट्यूबवेल को जीएलआर से जोड़कर सप्लाई देने की तैयारी की जा रही है। गौरतलब है कि जनस्वास्थ्य अभियान्त्रिकी विभाग की ओर से रणोदर गांव में पेयजल सप्लाई कीव्यवस्था नहीं करने को लेकर पत्रिका ने सिलसिलेवार समाचार प्रकाशित किए थे। जिसमें बताया गया था कि रणोदर में नर्मदा मुख्य नहर पर एफआर प्रोजेक्ट के तहत फिल्टर प्लांट लगा हुआ है और इसके लिए ग्रामीणों ने जमीन भी दी। इस प्लांट से जिला मुख्यालय सहित सैकड़ों गांवों में पानी की सप्लाई की जाती है, लेकिन विभाग की ओर से गांव में सालों से पानी की सप्लाई नहीं की जा रही है। समाचार प्रकाशित होने के बाद अब विभाग गांव में पेयजल आपूर्ति के लिए खारे पानी के ट्यूबवेल को जीएलआर से जोड़कर सप्लाई शुरू करने की तैयारी कर रहा है। इससे गांव के जीएलआर में खारे पानी की सप्लाई होने से लोगों को खारा पानी नसीब होगा। रणोदर सरहद में जमीन में खारा पानी होने के बावजूद विभाग की ओर से यहां ट्यूबवेल खुदवाया गया। इसी ट्यूबवेल से गांव के जीएलआर को जोडऩे की तैयारी की जा रही है, लेकिन ग्रामीणों को मीठा पानी देने के लिए विभाग के पास कोईयोजना नहीं है।
वितरिका निर्माण में तोड़ी पाइपलाइन
रणोदर सहित आस-पास के गांवों व ढाणियों में पेयजल सप्लाई के लिए करीब बीस साल पहले जलदाय विभाग की ओर से वितरितका निर्माण के दौरान पाइपलाइन को तोड़ दिया गया था। इसके बाद से इसे एक बार भी ठीक नहीं कया गया।
विभाग ने नहीं ली सुध
रणोदर गांव में मुख्य आबादी व ढाणियों में करीब बीस साल से पानी की सप्लाई नहीं हो रही है। इसके बावजूद विभाग की ओर से कोई सुध नहीं ली गई। ग्रामीणों ने अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों से भी कई बार गुहार लगाई, लेकिन कोई सुनवाई नहीं की गई।
इनका कहना है...
रणोदर सहित आस-पास की ढाणियों में सालों से पानी की सप्लाई नहीं हो रही है। इस बारे में कई बार विभागीय अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों को अवगत कराने के बावजूद सुनवाई नहीं हो रही है।
-हीरसिंह, ग्रामीण, रणोदर
रणोदर में पेयजल सप्लाई को लेकर ट्यूबवेल से पाइपलाइन जोड़कर तैयारी कर ली गई है। बिजली कनेक्शन होते ही सप्लाई शुरू कर दी जाएगी।
- गंगाराम पारेगी, एईएन, पीएचईडी सांचौर

Dharmendra Kumar Ramawat Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned