जालोर आईटीओ से दिनभर पूछताछ, फिर भी गिरफ्तारी पर निर्णय नहीं

जालोर आईटीओ से दिनभर पूछताछ, फिर भी गिरफ्तारी पर निर्णय नहीं
जालोर आईटीओ से दिनभर पूछताछ, फिर भी गिरफ्तारी पर निर्णय नहीं

Dharmendra Ramawat | Updated: 20 Dec 2018, 12:39:49 PM (IST) Jalore, Jalore, Rajasthan, India

आइटीओ के घर से 600 ग्राम अफीम मिलने का मामला

जालोर. आयकर विभाग जालोर में पदस्थापित आयकर अधिकारी जवान सिंह चारण के पाली राजेन्द्र नगर विस्तार स्थित मकान से 600 ग्राम अफीम बरामद होने के मामले में पुलिस दिनभर पूछताछ के बाद भी गिरफ्तारी का निर्णय नहीं कर पाई। पुलिस का कहना है कि मकान मालिक को गिरफ्तार किया जाएगा। पूरे दिन पुलिस यह पता नहीं कर पाई कि जिस मकान से अफीम मिली, उसके कागजात किसके नाम है। यह मकान जवान सिंह या उसकी पत्नी के नाम हो सकता है, एेसे में जिसके भी नाम यह कागज होंगे, पुलिस उसे एनडीपीएस मामले में आरोपी बनाएगी। इधर, बुधवार को दिनभर उससे पूछताछ जारी रही।
सीबीआइ ने खेप बरामद की, अब जांच में कई पहलू निकाल रही पुलिस
जांच अधिकारी व कोतवाली प्रभारी गंगाराम खावा के अनुसार जालोर के आयकर अधिकारी जवानसिंह चारण के पास आय से अधिक सम्पत्ति की शिकायत के आधार पर सीबीआई ने जांच की। इसमें उसके पास कुल आय से 136 प्रतिशत अधिक सम्पत्ति होने का खुलासा हुआ। इस दौरान चारण के पाली के राजेन्द्र नगर विस्तार स्थित बंद मकान पर सीबीआइ ने छापा मारा, इस दौरान चाबी उसकी पत्नी के पास थी, पत्नी से चाबी मंगवाकर मकान की तलाशी ली गई, इसमें ६०० ग्राम अफीम बरामद हुई। औद्योगिक क्षेत्र थाना पुलिस ने एनडीपीएस का मामला दर्ज किया, दिनभर पुलिस आयकर अधिकारी चारण से पूछताछ करती रही, लेकिन गिरफ्तार नहीं किया। इसके पीछे पुलिस का कहना है कि मौके से यह खेप सीबीआई ने बरामद की है, चारण की भूमिका इस बारे में पता नहीं चल रही है, मकान के दस्तावेज मंगवाए गए हैं, जो मकान मालिक होगा, उसे गिरफ्तार किया जाएगा। संभवत: गुरुवार को इस बारे में निर्णय हो सकता है।
यह है मामला
आइटीओ चारण के खिलाफ सीबीआइ ने आय से अधिक सम्पत्ति की एफआइआर दर्ज की गई। इसके साथ ही सीबीआइ की अलग-अलग टीमों ने सुबह जालोर स्थित आयकर अधिकारी चारण के कार्यालय व मकान, पाली में मकान व एक अन्य जगह और जोधपुर जिले में बिलाड़ा के पास खारी कलां गांव में दबिश दी। इस दौरान सीबीआइ को करोड़ों रुपए की चल व अचल सम्पत्ति के दस्तावेज मिले हैं। आयकर अधिकारी के पास पैतृक गांव खारी कलां में विशाल मकान है। उस पर एक करोड़ रुपए का निर्माण कार्य कराया गया है। इसके अलावा पाली में राजेन्द्र नगर विस्तार में दो भूखण्ड व एक मकान, जालोर में दो भूखण्ड हैं। यह सम्पत्ति उसने खुद व पारिवारिक सदस्यों के नाम कर रखी है। इसके साथ ही उसके पास दो कार, एक बुलेट भी है।
पुलिस कार्रवाई पर उठ रहे सवाल
- क्या आइटीओ ने पुलिस को नहीं बताया मकान के दस्तावेज किसके पास है
- मकान के दस्तावेज जहां भी रखे है, एक दिन में मंगवाए जा सकते हैं
- माल बरामदगी के 24 घंटे बाद भी औद्योगिक क्षेत्र व कोतवाली पुलिस एनडीपीएस जैसे गंभीर मामले में आरोपी तय नहीं कर पाना पुलिस की कार्यकुशलता पर सवाल

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned