आठवीं पास प्यून को बना दिया अकाउंट अफसर , हर रोज काट रहा करोड़ों का चेक

आठवीं पास प्यून को बना दिया अकाउंट अफसर , हर रोज काट रहा करोड़ों का चेक

Vasudev Yadav | Updated: 14 Jun 2019, 09:38:13 PM (IST) Janjgir Champa, Janjgir Champa, Chhattisgarh, India

चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी को इस पद पर बिठाना सरकार के कार्यप्रणाली के कुप्रबंध को उजागर कर रहा है। इस संबंध में सीएमओ का कहना है कि इससे पहले जो सीएमओ (CMO) थे उन्होंने ने ही उनकी पोस्टिंग की है ।

जांजगीर-चांपा. नगरपंचायत राहौद में लोगों को चाय-पानी पिलाने वाले आठवीं पास प्यून को यहां के अफसरों ने अकाउंटेंट (Accountant) के पोस्ट पर बिठा दिया है और वह हर रोज नगर पंचायत के विकास कार्य के करोड़ो का चेक काट रहा है। एक चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी को इस पद पर बिठाना सरकार के कार्यप्रणाली के कुप्रबंध को उजागर कर रहा है।

Read More : वीडियो में देखिए, क्या हुआ जब नाश्ता कर रहे इस किसान के घर घुस गया खतरनाक जानवर तेंदुआ

दफ्तर की साफ.सफाई व लोगों को पानी पिलाने वाले कर्मचारी को जब लाखों-करोड़ो का हिसाब-किताब करने वाला अकाउंटेंट (Accountant) बना दिया जाए तो उसकी बल्ले-बल्ले होना स्वाभाविक है। जी हां, यह सौ प्रतिशत सत्य है। जांजगीर-चांपा जिले के नगरपंचायत राहौद में बीते कई महीनों से यहां का प्यून कमलेश यादव को यहां के सीएमओ ने अकाउंटेंट (Accountant) के पद पर बिठा दिया है। पहले जो प्यून यहां के कर्मचारियों व अफसरों को घूम-घूमकर चाय-पानी पिलाता था वह अब खुद सीएमओ (CMO) के चेंबर के पास बैठकर अकाउंट अफसर बन बैठा है और उसके तेवर सातवें आसमान पर है। इस संबंध में सीएमओ का कहना है कि इससे पहले जो सीएमओ हरदयादल रात्रे थे उन्होंने ने ही उनकी पोस्टिंग की है और वही ढर्रा अभी तक चलते आ रहा है।

गौरतलब है कि अकाउंटेंट (Accountant) का पोस्ट बड़ा होता है। बाकायदा इसके लिए अकाउंट की पढ़ाई होती है। ताकि करोड़ो के हिसाब-किताब में किसी तरह गड़बड़ी न हो, लेकिन यहां तो हद हो गई, अफसरों ने आठवीं पढ़ा प्यून को ही अकाउंटेंट (Accountant) बनाकर करोड़ों का हिसाब किताब के काम को सौंप दिया है।

Read More : कॉलेज में पढ़ाई के दौरान BF को दिल दे बैठी लड़की, फिर BF पहुंच गया जेल

आठवीं पास प्यून की बैकडोर से हुई थी भर्ती
राहौद नगरपंचायत में प्यून कमलेश यादव की नियुक्ति वर्ष 2011 में तत्कालीन नपं अध्यक्ष संतोष यादव के रहमों करम पर बैकडोर से हुई थी। आठवीं पास बेस पर प्यून पोस्ट में भर्ती हुई है और वह दफ्तर में बीते 8 सालों से चपरासी का ही काम देख रहा था। चार महीना पहले जो अकाउंटेंट (Accountant) था उसकी दूसरी जगह नौकरी लग गई। इसके बाद यहां पोस्ट खाली था। इसके बाद तत्कालीन सीएमओ (CMO) ने प्यून को ही अकाउंटेंट की चाबी सौंप दी है। अब वह प्यून हर रोज करोड़ो का चेक काट रहा है।

जिसकी नियुक्ति वह भी अनजान
बताया जा रहा है कि हाल ही में नगर पंचायत राहौद में अकाउंटेंट (Accountant) पोस्ट पर एक कर्मचारी की नई ज्वाइनिंग हुई है। जो वास्तव में पढ़ा लिखा है, लेकिन वह भी फ्रेस भर्ती वाला है। उसे अकाउंट का काम आ नहीं रहा। उसे प्रभार देने की बात कही जा रही है, लेकिन वह खुद यह कह रहा है कि उसे काम अभी नहीं आ रहा। काम सीखने के बाद वह इस कुर्सी पर बैठेगा।

-इससे पहले जो सीएमओ थे उनके द्वारा ही अकाउंटेंट (Accountant) के पोस्ट पर प्यून को बिठाया गया है। पहले जैसा चलते आ रहा था वैसे ही अभी चल रहा है। हालांकि अब अकाउंटेंट की नियुक्ति हो चुकी है, लेकिन उसकी ज्वाइनिंग नहीं हुई है। उसे इस पद पर बिठाकर विधिवत काम लिया जाएगा- इंदेश्वर सिंह, सीएमओ नपं राहौद

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned