राज्य भर से आए खिलाडिय़ों को दाल, चावल खाकर व फटे गद्दे में सोकर दिखानी पड़ रही प्रतिभा

Shiv Singh

Publish: Sep, 17 2017 01:15:22 (IST)

Janjgir-Champa, Chhattisgarh, India
राज्य भर से आए खिलाडिय़ों को दाल, चावल खाकर व फटे गद्दे में सोकर दिखानी पड़ रही प्रतिभा

- दूसरे जिलों से आए खिलाडिय़ों को आवास स्थल से खेल मैदान तक जाना पड़ रहा पैदल 

जांजगीर-चांपा. जिले में राज्य स्तरीय खेल प्रतियोगिता का संचालन तो किया जा रहा है, लेकिन प्रतिभा दिखाने पहुंचे छात्रों को सुविधा देने और उनकी सुरक्षा के लिए कौन व्यवस्था करेगा इसकी जानकारी जिला खेल अधिकारी को भी नहीं है। उनका कहना है कि उनके पास अभी तक बजट नहीं आया और रही बात सुरक्षा की उसके लिए जोन प्रभारी जिम्मेदार हैं। खाने-पीने की व्यवस्था भी उन्हीं को करना है। इस विरोधाभासी नीति के चलते खिलाडिय़ों को दाल चावल खाकर और फटे गद्दे सोकर अपनी प्रतिभा दिखानी पड़ रही है।

जिले में राज्य स्तरीय खेल स्पर्धा का आयोजन जिले के लिए उपलब्धि मानी जाती है, ये उपलब्धि तो जिले को मिल गई, कलेक्टर ने पूरी व्यवस्था भी करवा दिया, लेकिन जिला खेल अधिकारी की नीरसता के चलते खिलाडिय़ों को समस्या का सामना करना पड़ रहा है।

दूसरे जिलों से आए खिलाडिय़ों को आवास स्थल से खेल मैदान तक पैदल जाना पड़ रहा है। उनकी सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं है। इससे खिलाड़ी निकलते तो खेल मैदान के लिए हैं, लेकिन रास्ते में पान, गुटखा, सिगरेट व तंबाकू का सेवन करते जाते हैं। अधिकारियों की यह लापरवाही देश के युवा को नशे की ओर धकेलती जा रही है। इतना ही नहीं बेहतर सुविधा मुहैया कराने के नाम पर खिलाडिय़ों को घटिया खाना, फटे गद्दे, गंदा आवास की सुविधा दी जा रही है।

जिम्मेदारी तय होने के बाद भी अव्यवस्था- राज्य स्तरीय शालेय प्रतियोगिता को लेकर कलेक्टर ने विभिन्न स्कूलों व छात्रावासों में आवास व्यवस्था के लिए संबंधित प्राचार्यो को जिम्मेदारी दी है इसके साथ ही परिवहन व्यवस्था, पूछताछ व कंट्रोल रूम की जिम्मेदारी अधिकारियों को देने के बावजूद इसके विभागीय अफसरों के उदासीनता से यहां पहुंचे खिलाडिय़ों को असुविधा के बीच रहना पड़ रहा है।

-खिलाडिय़ों की सुरक्षा व भोजन की जिम्मेदारी जोन प्रभारियों की है। हमे बजट नहीं मिला फिर भी खेल आयोजन करा रहे हैं। हमारा कार्य खेल आयोजन की बेहतर तरीके से कराना है। बाकी व्यवस्था जोन प्रभारियों को करनी है- -एनपी गोपाल, जिला खेल अधिकारी, जांजगीर

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned