देश के आर्थिक साम्राज्य को मोदी ने बर्बाद किया: प्रमोद तिवारी

कांग्रेस नेता ने कहा 2019 में हो जायेगी मोदी की विदाई

By: Ashish Shukla

Published: 26 Jan 2018, 10:55 PM IST

जौनपुर. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व राज्य सभा सदस्य प्रमोद तिवारी ने कहा है कि मोदी सरकार के चार साल के कार्यकाल में भारत का आर्थिक साम्राज्य जो दुनियां के विकासशील देशों में सबसे सशक्त माना जाता था, उसे उन्होने अपनी पूंजी परस्त नीतियों से तहस नहस कर दिया है। नोटबन्दी के कारण दुनियां में पूंजी निवेश करने वाले शक्ति सपंन्न पूंजी निवेशकों में भारत की व्यापारिक शाख एवं विश्वास दोनों घटा है। तिवारी गुरूवार को पूर्व सांसद कमला प्रसाद सिंह के तेरहवीं में शामिल होने के बाद पत्रकारों से बात कर रहे थे।

उन्होने कहा कि प्रदेश सरकार की किसान विरोधी नीतियों के कारण आज प्रदेशों के किसानों के सामने भीषण संकट खड़ा हो गया है। छुट्टा , गाय , साढ़ और बछड़े किसान की गाढ़ी कमाई की फसलें नष्ट कर रहे है। प्रदेश सरकार की किसान विरोधी कदम के कारण प्रदेश का किसान संकट के दौर से गुजर रहा है।

 

उन्होने कहा कि छोटे निवेशकों को समाप्त कर मुठ्ठी भर अम्बानी एवं अटानी जैसे पूजीपतियों के हाथ में देश की अर्थ व्यवस्था सौप दी गयी है। यह लोक तंत्र के लिए शुभ लक्षण नहीं है। मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों के कारण देश के करोड़ों घरो में चूल्हे बुझ जायेगे। उन्होने कहा कि प्रदेश में भाजपा सरकार पूरी तरह से असफल है।

 

कानून पर व्यवस्था चैपट हो गयी है। प्रदेश में हत्या , लूट और अपहरण की घटनाओं की बाढ़ आ गयी है। उन्होने कहा कि सीतापुर, मेरठ, मथुरा सहित अन्य जिलों में हुई अपराधिक घटनाओं की बाढ़ गयी है।

उनहोने कहा कि भाजपा के शासनकाल में भ्रष्टाचार दुगुना हो गया है कही पर भी रिश्वत दिये बिना कोई काम नहीं होता। उन्होने कहा कि यदि गैर कांग्रेसी सरकारों से तुलना की जाय तो खराब कानून व्यवस्था में भाजपा सरकार सपा और बसपा से आगे निकल गयी है।

उन्होने कहा कि 2019 के लोक सभा चुनाव में कांग्रेस की वापसी होगी तथा भाजपा कम लेकिन मोदी की विदाई होगी। उनहोने कहा कि भाजपा का सीधा मुकाबला कांग्रेस से है। कांग्रेस अपने सहयोगी दल यूपीए के साथ मिलकर चुनाव लड़ेगी।

कांग्रेस का मण्डलीय सम्मेलन शुरू होगा। पहला मण्डलीय सम्मेलन मेंरठ का गाजियाबाद में 28 जनवरी को होगा। इस अवसर पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राजेश पति त्रिपाठी, जिलाध्यक्ष इन्द्रभुवन सिंह, विनय सिंह, राजेश सिंह, देवाननद मिश्रा आदि मौजूद रहे।

Ashish Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned