दहेज की मांग दुल्हन को लगी नागवार, कहा मैं ससुराल नहीं जाउंगी, बस फिर वो हुआ

लड़की का निर्णय सुनते ही वर पक्ष के उड़ गए होश
दूल्हे समेत बाराती बनाए गए बंधक, पुलिस ले गई थाने

By: Mahendra Pratap

Published: 30 Jun 2020, 04:32 PM IST

जौनपुर. शाहगंज कोतवाली क्षेत्र के नटौली गांव की युवती ने दहेज की मांग देख मंगलवार को अपनी विदाई कैंसल कर दी। दूल्हा खिचड़ी रस्म पर चेन व अंगूठी की मांग कर रहा था जो दुल्हन को नागवार गुजरा। इसके बाद बारात को दुल्हा समेत वधू पक्ष ने बंधक बना लिया। घटना की जानकारी होने पर पुलिस भी पहुंच गई। मामला नहीं सुलझा तो दोनों पक्ष को कोतवाली लाया गया।

खेतासराय थाना क्षेत्र के पारां कमाल गांव निवासी दल श्रृंगार के बेटे पंकज राजभर की बारात सोमवार की शाम नाटौली गांव निवासी मनोज राजभर के यहां आई थी। आवभगत के बाद रीति-रिवाज से पंकज और प्रियंका का विवाह संपन्न हुआ। मंगलवार की सुबह विदाई से पहले खिचड़ी रस्म के दौरान दूल्हा बिदक गया। उसने सोने की चेन व अंगूठी की मांग करते हुए खिचड़ी खाने से मना कर दिया। कन्या पक्ष के लोगों के काफी समझाने बुझाने के बाद भी वो नहीं माना। मामले की खबर दुल्हन तक पहुंची तो उसने दहेज लोभी से शादी करने से इंकार कर दिया। लड़की का निर्णय सुनते ही वर पक्ष के होश उड़ गए, क्योंकि शादी संपन्न हो चुकी थी। अब सिर्फ विदाई ही होनी थी।

बात बढ़ती देख रात में रुके दूल्हे के रिश्तेदार व कई बाराती मौके से खिसक लिए। परिजन दूल्हे व उसके पिता को बंधक बनाकर शादी में हुए खर्च की मांग करने लगे। गांव के लोगों ने मामले की सूचना कोतवाली पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस टीम ने दोनों पक्ष को समझाने का प्रयास किया। बात न बनने पर दोनों पक्षों को लेकर थाने पहुंच गई। फिलहाल दोनों पक्ष के संभ्रांत लोग सुलह समझौते के प्रयास में जुटे रहे।

Show More
Mahendra Pratap Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned