आदर्श न्यूट्रीगार्डन में मिलेंगे ताजा फल और सब्जियां

- हींचगांव के प्रगतिशील किसान ने एक बीघा में आदर्श न्यूट्रीगार्डन स्थापित किया
- किसानों की आय दुगुनी करने की दिशा में साबित हो सकता है कारगर प्रयास

By: Ranjeet singh solanki

Published: 02 Aug 2021, 06:12 PM IST

झालावाड़। प्रधानमंत्री ने 2022 तक किसानों की खेती-किसानी से आमदनी दुगुनी करने की घोषणा की है। इस दिशा में कृषि मंत्रालय के आला अधिकारी और वैज्ञानिक मंथन में जुटे हैं कि किस तरह खेती को अधिक लाभकारी बनाया जाए, ताकि किसानों की आमदनी दुगुनी हो सके। प्रगतिशील किसान भी खेती में नवाचार कर रहे हैं और वैज्ञानिकों के मार्गदर्शन में आधुनिक तरीके से खेती कर रहे हैं, जो निश्चित रूप से अधिक लाभकारी साबित हो रही है। झालावाड़ जिले के हींचर के प्रगतिशील किसान रूपचन्द गुर्जर ने नवाचार करते हुए एक बीघा क्षेत्र में एक आदर्श न्यूट्रीगार्डन /गृहवाटिका स्थापित की है। जिसमें फलदार पौधे और सब्जियां लगाई गई है। वैज्ञानिक किसान के प्रयासों की सराहना कर रहे हैं। कृषि विज्ञान केन्द्र, झालावाड़ के वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं अध्यक्ष, डॉ. अर्जुन कुमार वर्मा ने बताया कि लॉकडाउन में लोगों के पास ताजी सब्जियां नहीं पहुंच पा रही है। ऐसे में गृहणियों के सामने समस्याएं आ रही है। सन्तुलित भोजन के लिए रोजाना एक जैसी सब्जियां नहीं बना सकती है। उन्होंने यह भी बताया कि केन्द्र के अथक प्रयासों एवं तकनीकी मार्गदर्शन के फ लस्वरूप जिले के कई गांवों में पोषण वाटिकाएं स्थापित हुई है। केन्द्र के उद्यान वैज्ञानिक अरविन्द नागर ने बताया कि केन्द्र के तकनीकी मार्गदर्शन की बदौलत गांव हींचर के कृषक रूपचन्द गुर्जर ने एक बीघा क्षेत्र में एक आदर्श न्यूट्रीगार्डन /गृहवाटिका स्थापित की है। इस गृह वाटिका में उन्होंने विभिन्न सब्जियाँ जैसे भिण्डी, बैंगन, लौकी, तुरई, गिल्की, प्याज के साथ-साथ फलदार पौधें जैसे अनार, केला, नींबू, आम, कटहल, अंजीर, पपीता इत्यादि तथा वर्तमान में मंूगफ ली की फसल भी ले रहे है। केन्द्र के प्रसार शिक्षा वैज्ञानिक, डॉ मोहम्मद युनुस ने बताया कि भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद् के अनुसार संतुलित भोजन के लिए एक वयस्क व्यक्ति को प्रतिदिन 85 ग्राम फ ल और 300 ग्राम सब्जियों का सेवन प्रतिदिन करना चाहिए। सब्जियां पोषण सुरक्षा में सोने की खान कही जा सकती है। जिन गृहणियों के घर में न्यूट्रीगार्डन है उनकों आज के दौर में ताजी व स्वास्थ्यवर्धक सब्जियां प्राप्त हो रही है। वैज्ञानिक नागर ने बताया कि एक वयस्क व्यक्ति को प्रतिदिन लगभग 300 ग्राम सब्जियां (100 ग्राम पत्तीवाली, 100 ग्राम जड़ वाली तथा 100 ग्राम अन्य सब्जियां) खानी चाहिए। अत: पांच सदस्यों वाले परिवार के लिए प्रतिदिन 300 ग्राम के हिसाब से 1.50 किग्रा. सब्जी की आवश्यकता पड़ेगी। इस प्रकार पूरे परिवार के लिए वर्ष में लगभग 525-550 किग्रा. सब्जी की आवश्यकता होगी। 5-6सदस्य वाले परिवार की सब्जियों की आवश्यकता पूरी करने के लिए 250 वर्गमीटर का क्षेत्र पर्याप्त होता हैै। इसमें 3.5 वर्गमीटर की 7-8 क्यारियां सुविधानुसार बनाकर मनपसन्द सब्जियां लगाएं ताकि प्रत्येक क्यारी से पूरे वर्षभर कुछ ना कुछ सब्जियां मिलती रहे। शहरों में भूमि के अभाव में यह कार्य घर की छतों किया जा सकता है। मेड़ पर जड़ वाली तथा पत्ती वाली सब्जियां लगाई जा सकती है।

BJP Congress
Show More
Ranjeet singh solanki
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned