सोसायटी खोलकर निवेशकों के लाखों रुपए हड़पे

सोसायटी खोलकर निवेशकों के लाखों रुपए हड़पे
सोसायटी खोलकर निवेशकों के लाखों रुपए हड़पे

Jagdish Paraliya | Updated: 14 Jun 2019, 11:45:39 AM (IST) Jhalawar, Jhalawar, Rajasthan, India

आस्था कोऑपरेटिव सोसायटी का मामला, लोगों ने परिवाद सौंपा

पिड़ावा. कस्बे में कुछ वर्ष पूर्व कोटड़ी रोड पर आस्था कोऑपरेटिव सोसायटी खोलकर सैंकड़ों निवेशकों के लाखों रुपए हड़पने का मामला सामने आया है। कस्बे के दो लोगों ने पुलिस को परिवाद देकर कार्रवाई की मांग की।
हनीफ खान पुत्र हबीब खान ने पुलिस को दिए परिवाद में बताया कि उसने सोसायटी में बीस हजार रुपए जमा किए थे। इसमें ब्याज सहित 40 हजार रुपए सोसायटी को भुगतान करना था। परिपक्वता पूरी होने पर जब उसने शाखा में संपर्क करना चाहा तो वहां पर ताला लटका मिला। दिए संपर्क नम्बर पर सम्पर्क किया, लेकिन फोन बंद मिला। सोसायटी का मालिक पदमसिंह झाला उसकी राशि हड़प कर भाग गया। वहीं दिलीप पाटीदार ने दी रिपोर्ट में बताया कि सन 2016 में कस्बे के जगदीश माली ने उसे पदमसिंह झाला से मिलाया, उसने सहकारी समिति में पैसे जमा करने के बारे में बताया, इस पर उसने 2016 -17 के बीच तकरीबन 18 हजार रुपए जमा कराए। समय पूरा होने पर जब वह कोटड़ी रोड पर कंपनी के कार्यालय पहुंचा तो वहां ताला लटका था। पदमसिंह से फोन पर भी संपर्क करने के प्रयास किया, लेकिन फोन बन्द रहा। पदमसिंह रुपए लेकर फरार हो गया है।
सूत्रों के अनुसार पदमसिंह ने कोटड़ी रोड पर आस्था कॉपरेटिव सोसायटी के नाम से कार्यालय खोला था। इसमें कस्बे व आसपास के गांवों के कई नोजवानों को अच्छा वेतन का झांसा देकर सोसायटी के एजेंट बनाया। इसमें क्षेत्र के सेंकड़ों लोगों को जमा धनराशि पर अच्छी ब्याज दरों का झांसा देकर लाखों रुपए जमा करा लिए। लेकिन जैसे निवेशकों के रकम लौटाने का समय आया, सोसायटी के दफ्तर को ताला लगाकर फरार हो गया। इससे सेंकड़ों निवेशकों के लाखों रुपए अधर झूल में फंस गए। वहीं निवेशक अब एजेंटों पर रकम के लिए दबाव बनाने लग गए हैं। ऐसे में एजेंटों ओर जमाकर्ताओं में लड़ाई-झगड़े की भी नोबत आ गई है। लाखों रुपए की ठगी का मामला सामने आने पर फरियादियों ने अब पुलिस का दरवाजा खटखटाया है। सीआई रामकिशन मेघवंशी ने बताया कि परिवाद प्राप्त हुए हैं, मामले की जांच की जा रही है। हेड कांस्टेबल मनोहरलाल ने बताया कि दो लोगों ने धोखाधड़ी का परिवाद दिया है। मामले की जांच की जा रही है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned