साब, पांच किमी दूर से पानी लाते है

पानी की समस्या से परेशान महिलाये पंहुची एसडीएम के पास

By: jagdish paraliya

Updated: 13 Mar 2018, 07:24 PM IST

झालावाड़@पिड़ावा उपखण्ड क्षेत्र के ग्राम कोली खेड़ा की महिलाओं ने उपखण्ड कार्यालय के सामने प्रदर्शन कर एसडीएम राकेश कुमार मीणा को ज्ञापन सौंपा। कोली खेड़ा गांव की करीब तीन दर्जन महिलाएं ट्रैक्टर-ट्राली से एसडीएम कार्यालय पहुंची। जहां उन्होंने एसडीएम को ज्ञापन सौंपकर बताया कि गांव में इन दिनों पेयजल संकट गहराया हुआ है। जिसके चलते उन्हें 4 - 5 किलोमीटर दूरी से जलापूर्ति को मजबूर होना पड़ रहा है। गांव को गागरीन पेयजल योजना से भी जोड़ा गया है। लेकिन नलों से भी जलापूर्ति नहीं हो रही है। साथ गांव में लगे हुए दो-तीन हैंडपंप भी सूखे पड़े है। जिससे ग्रामीणों को भरी पेयजल समस्या से जूझना पड़ रहा है। ग्रामीणों की समस्या पर एसडीएम मीणा ने गागरीन से पेयजल आपूर्ति प्रारम्भ होने तक टैंकरों से पेयजल आपूर्ति कराने का आश्वासन दिया। ज्ञापन देने वाली महिलाओं में सीताबाई, प्रेमबाई, कालीबाई, मोहनबाई, रुकमण बाई, लाबूबाई, लीलाबाई, भगवत बाई, फूलबाई, कशनबाई, शामूबाई, धापुबाई, शांतिबाई आदि बाई महिलाएं शामिल थी।

महिलाओं के प्रदर्शन के बाद प्रशासन आया हरकत में, टैंकरों से की जलापूर्ति प्रारम्भ

उपखण्ड क्षेत्र के ग्राम कोली खेड़ा की महिलाओं ने उपखण्ड कार्यालय के सामने प्रदर्शन कर एसडीएम राकेश कुमार मीणा को सौंपे गए ज्ञापन में पेयजल समस्या बताई थी। इस पर प्रशासन ने हरकत में आते हुए मंगलवार को टैंकरों से जलापूर्ति प्रारम्भ कर दी है।
गौरतलब है कि पिड़ावा उपखण्ड क्षेत्र के कोली खेड़ा गांव की दर्जनों महिलाएं ट्रैक्टर-ट्राली से एसडीएम कार्यालय पहुंची थी। जहां उन्होंने एसडीएम को ज्ञापन सौंपकर बताया था कि गांव में पेयजल संकट है।जिसके चलते उन्हें 4-5 किलोमीटर दूरी से जलापूर्ति को मजबूर होना पड़ रहा है। गांव को गागरीन पेयजल योजना से भी जोड़ा गया है। लेकिन नलों से भी जलापूर्ति नहीं हो रही है। मामले को गम्भीरता से लेते हुए उपखण्ड अधिकारी राकेश मीणा ने मंगलवार से ही गांव में टैंकरों जलापूर्ति प्रारम्भ करवा दी है।

jagdish paraliya
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned