झांसी दुष्कर्म मामले में बेहद खतरनाक खुलासा, ऐसा था कमरे के अंदर का नजारा, देखकर पुलिस भी रह गई हैरान

छात्रों के पास से 7 मोबाइल भी मिले हैं। इन मोबाइल में अश्लील क्लीपिंग हैं। साथ ही इनमें कुछ लड़कियों के नंबर हैं।

झांसी. नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म के मामले में पॉलीटेक्निक के आरोपी छात्रों के मंसूबे काफी खतरनाक थे। ये लड़के छात्रा को ब्लैकमेल कर आगे भी उसके शोषण की प्लानिंग बना रहे थे। गिरफ्तारी के बाद जब पुलिस ने इन छात्रों के कमरों की तलाशी ली तो वहां का नजारा देखकर खुद पुलिस वाले हैरान रह गए। छात्रों के कमरे में पुलिस को तमाम हॉकी स्टिक मिलीं। इसके साथ ही कमरे में लोहे की रॉड और चाकू जैसे खतरनाक हथियार भी मिले। पुलिस ने आसपास के लोगों से जब पूछताछ की तो उनका कहना था कि शाम ढलते ही कमरे में बाहरी लोगों का आना जाना शुरू हो जाता था और हॉस्टल की छत पर कुछ लड़के खड़े होकर रास्ते से आने जाने वाली महिलाओं और लड़कियों पर कमेंट करते थे।

बाकी लड़कों से करते थे वसूली

लोगों ने बताया कि पुलिस से शिकायत भी की गई तो सिपाही आये और बाहर से ही छात्रों को डांटकर चले गये। कार्रवाई न होने से इन छात्रों की हिम्मत बढ़ती चली गई। यहां तक कि हॉस्टल में रहने वाले जो बाकी छात्र जब अपने घर जाते थे और वहां से वापस आने पर ये दबंग लड़के इन लोगों से वसूली करते थे। यहां तक कि घर जाने वालों से कहा जाता था कि वह घरवालों से पैसे लेकर आएं। दावत के लिए भी प्रेशर बनाया जाता था। हास्टल के कुछ छात्रों ने बताया कि कॉलेज प्रशासन से शिकायत करने के बाद भी कुछ नहीं होता था। जिसके चलते बाद में तो उन लोगों ने कालेज प्रशासन से कहना ही बंद कर दिया था।

बड़े रैकेट का हो सकता है खुलासा

झांसी के एसपी सिटी विवेक त्रिपाठी के मुताबिक छात्रों के पास से 7 मोबाइल भी मिले हैं। इन मोबाइल में अश्लील क्लीपिंग हैं। साथ ही इनमें कुछ लड़कियों के नंबर हैं। कुछ मैसेज भी ऐसे मिले हैं जिनकी जांच की जा रही है। सभी को फोरेंसिक जांच के लिए सभी को भेजा रहा है। कुछ ऐसे नंबर भी मिले हैं जिनसे दिन में कई-कई बार बात हुई है। इन सभी की जांच की जा रही है। पुलिस का कहना है कि इस केस में ब्लैकमेलिंग का बड़ा रैकेट सामने आ सकता है।

Show More
नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned