यूपी और एमपी के बदमाश मिलकर करते हैं ये काम, एक पकड़ा गया तो खुला राज

यूपी और एमपी के बदमाश मिलकर करते हैं ये काम, एक पकड़ा गया तो खुला राज

Brij Kishore Gupta | Publish: Sep, 09 2018 08:20:12 PM (IST) Jhansi, Uttar Pradesh, India

यूपी और एमपी के बदमाश मिलकर करते हैं ये काम, एक पकड़ा गया तो खुला राज

झांसी। उत्तर प्रदेश और सीमावर्ती मध्यप्रदेश में रहने वाले बदमाश मिलजुलकर वाहन चोरी की घटनाओं को अंजाम देते हैं। यूपी से चुराई गई गाड़ियां मध्यप्रदेश में बेची जाती हैं और मध्यप्रदेश से चुराई गई गाड़ियां उत्तर प्रदेश में। यह राज यहां सकरार थाना क्षेत्र में पकड़े गए एक वाहन चोर ने पुलिस के सामने उगला। पकड़े गए वाहन चोर की निशानदेही पर चोरी की दो बाइक बरामद की गई हैं। इनमें से एक गाड़ी झांसी के कोतवाली क्षेत्र से चुराई गई थी और दूसरी गाड़ी मऊरानीपुर से। वहीं, पकड़े गए वाहन चोर के मध्यप्रदेश में रहने वाले दो साथी फरार हो गए। अब पुलिस उन्हें तलाश कर रही है।
अड़जार तिराहे से हुई गिरफ्तारी
पुलिस के अनुसार एसएसपी के निर्देश पर अपराध और अपराधियों के विरुद्ध चलाए जा रहे अभियान के क्रम में थाना सकरार पुलिस द्वारा एक शातिर वाहन चोर को गिरफ्तार किया है। वह सकरार थाना क्षेत्र के मगरपुर का रहने वाला अशोक कुमार है। उसके पास से चोरी की लाल और काले रंग की दो हीरो मोटरसाइकिलें बरामद की गई है। इसके अलावा उसके दो साथी भाग निकले। भाग निकलने वाले साथियों में मध्यप्रदेश के टीकमगढ़ जिले के सेंदरी थाना क्षेत्र के ग्राम लड़ौरा का रहने वाला सोबरन सिंह यादव और थाना टेहरका के ग्राम देवरी का रहने वाला राजेंद्र सिंह धीमर बताए गए हैं।
ये रहे गिरफ्तार करने वाली टीम में शामिल पुलिस
इस वाहन चोर को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में उपनिरीक्षक रवींद्र सिंह, उपनिरीक्षक निरंजन सिंह, अमित पाल व संजय सिंह शामिल रहे। पुलिस के अनुसार गिरफ्तार किए गए वाहन चोर के पास से बरामद एक मोटरसाइकिल थाना कोतवाली झांसी से अप्रैल में चोरी की गई थी। जबकि दूसरी मोटरसाइकिल मऊरानीपुर से 26 जुलाई को चोरी की गई थी। दोनों ही मोटरसाइकिल चोरी के संबंध में थाना कोतवाली झांसी और मऊरानीपुर में चोरी का मामला दर्ज है।

Ad Block is Banned