गर्लफ्रेंड को परेशान करने पर प्रेमी ने की युवक की हत्या

Hariom Dwivedi

Publish: Oct, 13 2017 06:41:01 AM (IST)

Jhansi, Uttar Pradesh, India
गर्लफ्रेंड को परेशान करने पर प्रेमी ने की युवक की हत्या

गर्लफ्रेंड को परेशान करने पर प्रेमी ने की युवक की हत्या

झांसी। गर्लफ्रेंड को परेशान करने पर प्रेमी ने एक युवक की हत्या कर दी। उसने जन्मदिन की पार्टी के बहाने बुलाया। फिर दो दोस्तों के साथ बैठकर शराब पिलाई और बाद में गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी। इस मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने तीनों आरोपियों को अरेस्ट कर लिया।
ये था मामला
मोंठ थाना क्षेत्र के ग्राम अमरा निवासी सुनील कुशवाहा ने 24 सितंबर को पुलिस को सूचना दी थी कि वह अपनी धान की फसल देखने सुबह परगहना रोड रेलवे फाटक से पहले आया था। उसके खेत की मेड़ के किनारे 22 वर्षीय युवक का शव पड़ा दिखाई दिया। गले में फंदे का निशान था, जैसे कि हत्या करके शव को यहां फेंका गया हो। शव जला हुआ था। पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ दफा 302,201 के तहत मुकदमा दर्ज कर इस मामले की विवेचना शुरू की। 26 सितंबर को उक्त युवक के शव की शिनाख्त हुई। यह शव जालौन के थाना चुर्खी के ग्राम बावई निवासी अन्नू नागर का था। इसी आधार पर पुलिस ने हत्यारोपियों की तलाश शुरू की।
ऐसे पकड़े गए हत्यारोपी
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जे के शुक्ल के निर्देश पर एसपी देहात कुलदीप नारायण व सीओ मोंठ आशापाल सिंह के नेतृत्व में मोंठ प्रभारी निरीक्षक मुकेश वर्मा, उपनिरीक्षक सुभाष चंद्र यादव, गुलाम फरीद, रामकेश यादव, अजय कुमार साहू, प्रवेश कुमार, अभिषेक यादव व रामपाल टीम के साथ गश्त कर रहे थे। तभी सूचना मिली कि अमरा पेट्रोल पंप के पास तीन युवक वाहन के इंतजार में खड़े हैं। इस सूचना पर गई टीम ने घेराबंदी कर तीनों युवकों को पकड़ लिया। पुलिस के मुताबिक जालौन के थाना चुर्खी के ग्राम बावई निवासी मोनू कुशवाहा, जालौन के थाना आटा के ग्राम पिपराया निवासी अनुज पाण्डेय और शिवपुरी के करैरा के ग्राम कुम्हरपुरा निवासी प्रदीप उर्फ गोलू प्रजापति को गिरफ्तार कर लिया। तीनों से पूछताछ के दौरान हत्या करने की बात स्वीकार की। इसके बाद उन्हें जेल भेजा गया।
जन्मदिन की पार्टी के बहाने बुलाया था
आरोपी मोनू कुशवाहा ने बताया कि अन्नू नागर उसी के गांव का था। वह गांव में रहने वाली उसकी गर्लफ्रेंड को मोबाइल फोन पर बातचीत करके परेशान करता रहता था। इसकी जानकारी गर्लफ्रेंड ने उसे दी तो उसने अन्नू को समझाया और ऐसा करने से मना किया। इस पर अन्नू ने उसकी गर्लफ्रेंड को बदनाम करने की धमकी देना शुरू कर दिया। मोनू का कहना है कि उसने अपने मित्र अनुज पांडेय व गोलू के साथ मिलकर अन्नू को मार डालने की योजना बना डाली। इसी योजना के तहत उसे 23 सितंबर को दिन के 12 बजे दोस्त की जन्मदिन की पार्टी का बहाना बनाकर बुला लिया। यहां मोंठ के अमरा तिराहे पर उसके दोनों दोस्त भी मिल गए। चारों लोग चिरगांव गए। वहां शराब पी। अन्नू को ज्यादा शराब पिलाकर नशे में कर दिया गया। उसके बाद गला घोंटकर हत्या कर दी और शव को ठिकाने लगाने के लिए जलाने की कोशिश की। बाद में अधजले शव को फेंककर वे भाग लिए।

Ad Block is Banned