सुलताना में किसानों ने बिजली समस्याओं को लेकर दिया धरना

सुलताना.बिजली से जुड़ी समस्याओं को लेकर मंगलवार को क्षेत्र के किसान सड़कों पर आ गए। विभिन्न मांगों को लेकर किसानों ने चिड़ावा रोड पर पॉवर हाउस के सामने धरना दिया देकर रोड को जाम किया। जिसे पुलिस ने खुलवाने के प्रयास किए। धरने में वक्ताओं ने बिजली से जुड़ी समस्याओं को उठाया।

By: Datar

Published: 20 Jan 2021, 09:02 PM IST

सुलताना में किसानों ने बिजली समस्याओं को लेकर दिया धरना

सुलताना.बिजली से जुड़ी समस्याओं को लेकर मंगलवार को क्षेत्र के किसान सड़कों पर आ गए। विभिन्न मांगों को लेकर किसानों ने चिड़ावा रोड पर पॉवर हाउस के सामने धरना दिया देकर रोड को जाम किया। जिसे पुलिस ने खुलवाने के प्रयास किए। धरने में वक्ताओं ने बिजली से जुड़ी समस्याओं को उठाया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने बिजली बिलों में मिलने वाली छूट को यह कहते हुए बंद कर दिया कि सब्सिड़ी की राशि खातों में भेजी जाएगी। लंबे समय बाद भी किसानों के खातों राशि नहीं भेजी जा रही। किसानों से फ्लैट रेट के बजाय 10 गुणा तक बिलों में बढ़ौतरी कर वसूली की जा रही है। उन्होंने कहा कि घरेलू बिलों में भी लगातार बढ़ौतरी कर आम जनता का शोषण किया जा रहा है। जिससे उपभोक्ता परेशान हैं। उन्होंने चेताया कि जल्द ही सरकार ने बिजली से जुड़ी समस्याओं का समाधान नहीं किया तो आंदोलन किया जाएगा। किसानों ने चिड़ावा एइएन केके डिग्रवाल को ज्ञापन भी सौंपा।जिसके माध्यम से किसानों को फ्री बिजली देने, सभी घरेलू उपभोक्ताओं को तीन सौ यूनिट बिजली मुफ्त दिलवाने, वीसीआर के नाम पर लूट बंद करने, बिजली बिलों में यूनिट चार्ज के अलावा सभी चार्ज हटवाने, बिजली के निजीकरण पर रोक लगवाने की मांग की। धरने को जिला परिषद सदस्य पंकज धनखड़, रामनिवास बाजला, पंस सदस्य उम्मेद सिंह धनखड़, मंजू देवी सुलताना, सरपंच घीसाराम चांवरिया, जेपी महला, रामकरण झाझडिय़ा, भगवानाराम धनखड़, नीतू फोगाट, उम्मेद बराला सारी, राजेश डारा, सहीराम धनखड़, संगीत गोठवाल, ख्यालीराम, मनीराम काजला, विजेंद्र धीवां ने संबोधित किया। इस मौके पर लक्ष्मण सिंह धीवां, मुकेश कुमार झाझडिय़ा, सुमेर सिंह कुल्हरी, देवेंद्रसिंह बालायन, रामकरण झाझडिय़ा, मनोज कुमार गोवला, मनीराम काजला, संगीत गोठवाल, जंगशेर अली, सुरेश महला, मास्टर शौकत, रेवंत सिंह शेखावत, विनोद महला आदि मौजूद थे।
कर्मचारियों पर लगाए आरोप-
धरने में शामिल किसानों ने जीएसएस के कर्मचारियों पर भी गंभीर आरोप लगाए। किसानों ने एइएन डिग्रवाल और सुलताना एइएन से कर्मचारियों की शिकायत की। उन्होंने बताया कि जीएसएस के कर्मचारी उपभोक्ताओं ने अभद्र व्यवहार करते हैं। नियमों के विरूद्ध उपभोक्ताओं के कनेक्शन काटे जाते हैं। उन्होंने जीएसएस की जेइएन दीपिका गोदारा और सभी कर्मचारियों का तबादला करवाने की भी मांग की।
तीन घंटे तक रखी रोड जाम-
किसानों ने चिड़ावा रोड पर पॉवर हाउस के सामने करीब तीन घंटे तक धरना दिया।जिस कारण रोड जाम हो गई। जिसके चलते वाहनों को बाइपास निकाला गया। धरने से पहले किसानों ने पंचायत भवन के सामने से पैदल मार्च शुरू किया। जो कि टेकड़ा मोड़, बस स्टैंड होते हुए धरना स्थल पर पहुंचे। उधर, धरना स्थल पर सीआइ लक्ष्मीनारायण सैनी के नेतृत्व में पुलिस जाब्ता भी तैनात रहा। धरने में सुलताना, चनाना, भुकाना, सोलाना, गोवला, किठाना, केहरपुरा कलां, सारी, अरड़ावता, श्रीअमरपुरा, जोडिय़ा, किशोरपुरा, पदमपुरा, महरमपुर सहित अन्य गांवों के किसानों ने हिस्सा लिया।

सुलताना में किसानों ने बिजली समस्याओं को लेकर दिया धरना

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned