scriptpolo star shiwangi singh jhunjhunu | पोलो स्टार शिवांगी, जो हरा देती है छोरों को | Patrika News

पोलो स्टार शिवांगी, जो हरा देती है छोरों को

जयपुर से एमबीबीएस कर रही शिवांगी सिंह ने बताया कि उसे शुरू से ही घुड़सवारी व घुड़दौड़ में रूची रही है। यपुर के धानक्या पोलो ग्राउंड पिछले वर्ष पुरुषों के साथ पोलो खेल कर बेस्ट खिलाड़ी का खिताब लेकर यह साबित कर दिया की महिलाएं हर क्षेत्र में आगे है। पोलो में भी पीछे नहीं रहेंगी।

झुंझुनू

Published: January 13, 2022 05:07:19 pm

#polo star shiwangi singh jhunjhunu

पचलंगी. घोड़ों की रफ्तार वाला खेल पोलो हमेशा पुरुष प्रधान रहा है। अब महिलाएं भी इसमें अपना दम दिखाने लगी । राजस्थान के झुंझुनूं जिले के उदयपुरवाटी उपखण्ड के पचलंगी के निकट ढाणी स्वामी वाला निवासी शिवांगी सिंह बड़सरा महिला पोलो खेल को आगे बढ़ाने में निरंतर लगी हुई है। वह लड़कों के साथ पोलो खेलकर भी बेस्ट खिलाड़ी का खिताब जीत चुकी। जयपुर से एमबीबीएस कर रही शिवांगी सिंह ने बताया कि उसे शुरू से ही घुड़सवारी व घुड़दौड़ में रूची रही है। इसी रूची को आगे बढ़ाते हुए व पोलो खेल पुरुष प्रधान होने पर एक लक्ष्य लेकर चली। पिता जयसिंह बड़सरा व मां संतोष चौधरी की प्रेरणा से वह 2 वर्ष से पोलो खेल रही है। जयपुर के जयसिंहपुरा मैदान में पहले गुरु सवाई सिंह से प्रशिक्षण लिया। वहीं भारतीय पोलो टीम के पूर्व कप्तान समीर सिंह सुहाग से कोचिंग ली।
पोलो स्टार शिवांगी, जो हरा देती है छोरों को
पोलो स्टार शिवांगी, जो हरा देती है छोरों को
#polo star shiwangi singh jhunjhunu

भाई की स्मृति में रखा टीम का नाम

शिवांगी का इकलौता भाई प्रतीक बड़सरा एमपी में मेडिकल की पढ़ाई कर रहा था। मेडिकल की पढ़ाई करने के दौरान ही एमपी के उज्जैन में ही कुछ वर्ष पूर्व सड़क हादसे में प्रतीक की मौत हो गई थी। प्रतीक की इकलौती बहन शिवांगी ने हार नहीं मानी व अपने इकलौते भाई के सपनों को साकार करने के लिए मेडिकल की पढ़ाई शुरू की। भाई के पसंदीदा खेल पोलो को भी अपना पसंदीदा खेल बना लिया। शिवांगी का मेडिकल की पढाई का यह अंतिम वर्ष है। इसके साथ-साथ ही शिवांगी अपने भाई प्रतीक के नाम से प्रतीक महिला पोलो क्लब बनाकर महिला टीम पोलो ग्राउंड में अपना साहस दिखा रही है। वह विशेषज्ञ चिकित्सक बनकर जरूरतमंद परिवारों की सेवा करना चाहती है साथ ही पोलो खेल में निखार लाकर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देश का प्रतिनिधित्व कर पदक लाना चाहती है।
#polo star shiwangi singh jhunjhunu
बेस्ट खिलाड़ी का खिताब

जयपुर के धानक्या पोलो ग्राउंड पिछले वर्ष पुरुषों के साथ पोलो खेल कर बेस्ट खिलाड़ी का खिताब लेकर यह साबित कर दिया की महिलाएं हर क्षेत्र में आगे है। पोलो में भी पीछे नहीं रहेंगी। जयपुर में 2021 फरवरी सीजन में हुए प्रदर्शन मैच में भी शिवांगी ने अपनी टीम का प्रतिनिधित्व करते हुए लोहा मनवाया व कई पदक जीते। शिवांगी ने जयपुर में आयोजित पीडीकेएफ महिला पोलो कप प्रतियोगिता में भाग लिया । दिल्ली आर्मी खेल मैदान में 31 अक्टूबर 2021 में आयोजित पोलो प्रतियोगिता में भाग लिया।
महिला पोलो को मिले बढ़ावा -
शिवांगी ने बताया कि राज परिवार की ओर से प्रतिवर्ष महिला खिलाडिय़ों को मौका देकर महिला पोलो को बढ़ावा दिया जा रहा है। पोलो सत्र में महिलाओं के अलग से मैच भी करवाए जा रहे हैं । लेकिन इसके लिए और प्रयास करने की जरूरत है। सरकार को पोलो खेल को स्कूली स्तर पर खेलों में शामिल करना चाहिए। सरकार पोलो खेल के लिए आगे आए इसके लिए एकेडमी बनाए जिससे इस महंगे खेल को आम महिलाएं व पुरूष खेल सके।
-----------
रिपोर्ट अरुण शर्मा

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022 LIVE updates: थोड़ी देर में राजपथ पर शुरू होगी परेड, राफेल से सुखोई तक 75 विमान दिखाएंगे शौर्यRepublic Day 2022: गणतंत्र दिवस पर दिल्ली की किलेबंदी, जमीन से आसमान तक करीब 50 हजार सुरक्षाबल मुस्तैदRepulic Day 2022: जानिए क्या है इस बार गणतंत्र दिवस की थीमस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाBudget 2022: कोरोना काल में दूसरी बार बजट पेश करेंगी निर्मला सीतारमण, जानिए तारीख और समयअप्राकृतिक संबंध बनाने से इंकार करने पर मासूम की हत्या, 20 साल के दरिंदे ने मुरुम में दबा दिया था शवRepublic Day 2022: गणतंत्र दिवस पर इस बार परंपराओं में बदलाव, जानिए परेड में आपको पहली बार कौन सी चीजें दिखेंगीपद्मश्री दुर्गाबाई ने खर्च चलाने घरों में किया झाड़ू-पोंछा, लॉकडाउन में लेना पड़ा कर्ज
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.