उच्च माध्यमिक विद्यालयों में गेस्ट टीचर के 307 पदों पर भर्ती, करें आवेदन

Guest Teacher recruitment 2018, कार्यालय जिला शिक्षा पदाधिकारी, दरभंगा ने उच्च माध्यमिक विद्यालयों में गेस्ट टीचर के 307 रिक्त पदों पर भर्ती के लिए

By: युवराज सिंह

Published: 24 May 2018, 07:28 PM IST

Guest Teacher recruitment 2018, कार्यालय जिला शिक्षा पदाधिकारी, दरभंगा ने उच्च माध्यमिक विद्यालयों में गेस्ट टीचर के 307 रिक्त पदों पर भर्ती के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं। योग्य उम्मीदवार 4 जून 2018 तक आवेदन भेज सकते हैं।इच्छुक व याेग्य उम्मीदवार इन पदाें के लिए नीचे दिए गए अधिसूचना विवरण लिंक पर क्लिक करें।

 

कार्यालय जिला शिक्षा पदाधिकारी, दरभंगा में रिक्त पदाें का विवरणः

पद नाम: गेस्ट टीचर

पदों की संख्या:

कुल पद- 307 पद

अंग्रेजी- 129 पद

फिजिक्स- 63 पद

केमिस्ट्री- 53 पद

मैथ्स- 55 पद

जूलॉजी - 2 पद

बॉटनी - 5 पद

कार्यालय जिला शिक्षा पदाधिकारी, दरभंगा में Guest Teacher के रिक्त पदाें पर आवेदन करने के लिए याेग्यता विवरण:

शैक्षिक योग्यता: जानकारी प्राप्त करने के नीचे दिए गए विस्तृत अधिसूचना लिंक पर क्लिक करें.

आयु सीमा: 21 से 65 वर्ष

आवेदन कैसे करें:

योग्य उम्मीदवार कार्यालय जिला शिक्षा पदाधिकारी, दरभंगा के पते पर 4 जून 2018 तक आवेदन भेज सकते हैं।

महत्वपूर्ण तिथि:

आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि: 4 जून 2018

Guest Teacher recruitment notification 2018:

कार्यालय जिला शिक्षा पदाधिकारी, दरभंगा ने उच्च माध्यमिक विद्यालयों में गेस्ट टीचर के 307 रिक्त पदों पर भर्ती के लिए विस्तृत अधिसूचना यहां क्लिक करें।

दरभंगा का परिचयः

भारत प्रान्त के उत्तरी बिहार में बागमती नदी के किनारे बसा दरभंगा एक जिला एवं प्रमंडलीय मुख्यालय है। दरभंगा प्रमंडल के अंतर्गत तीन जिले दरभंगा, मधुबनी, एवं समस्तीपुर आते हैं। दरभंगा के उत्तर में मधुबनी, दक्षिण में समस्तीपुर, पूर्व में सहरसा एवं पश्चिम में मुजफ्फरपुर तथा सीतामढ़ी जिला है। दरभंगा शहर के बहुविध एवं आधुनिक स्वरुप का विकास सोलहवीं सदी में मुग़ल व्यापारियों तथा ओईनवार शासकों द्वारा विकसित किया गया। दरभंगा 16वीं सदी में स्थापित दरभंगा राज की राजधानी था। अपनी प्राचीन संस्कृति और बौद्धिक परंपरा के लिये यह शहर विख्यात रहा है। इसके अलावा यह जिला आम और मखाना के उत्पादन के लिए प्रसिद्ध है। दरभंगा शब्द संस्कृत भाषा के शब्द 'द्वार-बंग' या फारसी भाषा के 'दर-ए-बंग' यानि बंगाल का दरवाजा का मैथिली भाषा में कई सालों तक चलनेवाले स्थानीयकरण का परिणाम है। ऐसा कहा जाता है कि मुगल काल में दरभंगी खान ने शहर की स्थापना की थी।

 

Show More
युवराज सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned