iit kharagpur में जूनियर प्रोजेक्ट असिस्टेंट एवं सीनियर रिसर्च फेलोशिप के पदाें पर भ्रती, करें आवेदन

iit kharagpur में जूनियर प्रोजेक्ट असिस्टेंट एवं सीनियर रिसर्च फेलोशिप के पदाें पर भ्रती, करें आवेदन

Yuvraj Singh Jadon | Publish: Apr, 17 2018 07:00:38 PM (IST) जॉब्स

iit kharagpur Junior Project Assistant recruitment 2018, इंडियन इंस्टीटयूट ऑफ टेक्नोलॉजी (IIT) खड़गपुर ने जूनियर प्रोजेक्ट असिस्टेंट एवं सीनियर रिसर्च

iit kharagpur Junior Project Assistant recruitment 2018, इंडियन इंस्टीटयूट ऑफ टेक्नोलॉजी (IIT) खड़गपुर ने जूनियर प्रोजेक्ट असिस्टेंट एवं सीनियर रिसर्च फेलोशिप के रिक्त पदों पर भर्ती के लिए आवेदन आमंत्रित किये हैं। इच्छुक व याेग्य उम्मीदवार 3 मई 2018 तक आवेदन कर सकते हैं।अावेदन आैर अन्य जानकारी के लिए नीचे दिए गए अधिसूचना विवरण लिंक पर क्लिक करें।

 

इंडियन इंस्टीटयूट ऑफ टेक्नोलॉजी (IIT) में रिक्त पदाें का विवरणः

 

जूनियर प्रोजेक्ट असिस्टेंट (रणबीर एंड चित्रा गुप्ता स्कूल ऑफ इंफ्रास्ट्रक्चर डिजाईन एंड मैनेजमेंट) रिसर्च- 1 पद

जूनियर प्रोजेक्ट असिस्टेंट (ओसियन इंजीनियरिंग एंड नेवल आर्कीटेक्चर)- 1 पद

सीनियर रिसर्च फेलोशिप (बायोटेक्नोलॉजी)- 1 पद

 

इंडियन इंस्टीटयूट ऑफ टेक्नोलॉजी (IIT) में शैक्षणिक योग्यता व अनुभवः

जूनियर प्रोजेक्ट असिस्टेंट (ओसियन इंजीनियरिंग एंड नेवल आर्कीटेक्चर)- रिमोट सेंसिंग/जियोइन्फार्मेटिक्स में एमटेक/एमएससी होना आवश्यक है।

अन्य पदों हेतु आवेदन के लिए निर्धारित आवश्यक शैक्षणिक योग्यता की जानकारी के लिए नीचे दिए विस्तृत अधिसूचना लिंक पर क्लिक करें।

इंडियन इंस्टीटयूट ऑफ टेक्नोलॉजी (IIT) में रिक्त पदाें पर आवेदन कैसे करें:

योग्य उम्मीदवार 3 मई 2018 तक आवेदन कर सकते हैं।

 

इंडियन इंस्टीटयूट ऑफ टेक्नोलॉजी (IIT) में आवेदन के लिए महत्वपूर्ण तिथि:

आवेदन की अंतिम तिथि- 3 मई 2018

 

iit kharagpur Junior Project Assistant recruitment notification 2018:

इंडियन इंस्टीटयूट ऑफ टेक्नोलॉजी (IIT) खड़गपुर में जूनियर प्रोजेक्ट असिस्टेंट एवं सीनियर रिसर्च फेलोशिप के रिक्त पदाें पर आवेदन करने के लिए अधिसूचना यहां क्लिक करें।

 

परिचयः

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, खड़गपुर भारत सरकार द्बारा 1951 में स्थापित अभियांत्रिकी (इंजीनियरिंग) और प्रौद्योगिकी -उन्मुख एक स्वायत्त उच्च शिक्षा संस्थान है। सात आईआईटी में यह सबसे पुरानी है। भारत सरकार ने इसे आधिकारिक तौर पर राष्ट्रीय महत्त्व का संस्थान माना है और इसकी गणना भारत के सर्वोत्तम इंजीनियरिंग संस्थानों में होती है। आई आई टी खड़गपुर को विभिन्न इंजीनियरिंग शिक्षा सर्वेक्षणों जैसे कि इंडिया टुडे और आउटलुक में सर्वोच्च इंजीनियरिंग कॉलेजों में से एक का स्थान दिया गया है।

1947 में भारत की स्वाधीनता के बाद आई आई टी खड़गपुर की स्थापना उच्च कोटि के वैज्ञानिकों और इंजीनियरों को प्रसिक्षित करने के लिए हुई थी। इसका संस्थागत ढांचा दूसरी IITओं की ही तरह है और इसकी प्रवेश की विधि भी बाकी IITओं के साथ ही होती है। आई आई टी खड़गपुर के छात्रों को अनौपचारिक तौर पर केजीपिअन् (KGPians) कहा जाता है।

Ad Block is Banned