scriptHeavy rain: 13 people drowned in seven days, Be alert in Heavy rain | Heavy Rain : भारी बारिश का कुप्रभाव : सात दिन में 13 जने डूबे (Alert in Heavy rain) | Patrika News

Heavy Rain : भारी बारिश का कुप्रभाव : सात दिन में 13 जने डूबे (Alert in Heavy rain)

- मौका ए सावधान
- मानसून की सक्रियता के चलते सावचेती जरूरी, बाहर निकलने पर आवश्यक सामान रखें साथ

जोधपुर

Updated: August 01, 2022 08:47:23 pm

जोधपुर।
जिले में ही नहीं बल्कि संभागभर में मानसून परवान पर है। गत सप्ताह तीन दिन की भारी बारिश (Heavy Rain) से जोधपुर जिले में कई जगह जल प्लावन की िस्थति हो गई थी। पानी में डूबने से सात दिन में 13 जनों की जान (13 people died due to heavy rain) जा चुकी है। ऐसी िस्थति में जनहानि से बचने के लिए आमजन को जलभराव वाले क्षेत्रों से दूर रहने के साथ ही कुछ सावधानियां बरतने की जरूरत है।
कायलाना झील लबालब हुई, पुलिस पहरा लगा
प्रमुख पेयजल स्त्रोत व पर्यटन स्थल मानीं जाने वाली कायलाना झील (Kaylana lake) लबालब भर चुकी है। बारिश के मौसम में पर्यटकों की भीड़ उमड़ने की संभावना रहती है। इनसे हादसे भी हो सकते हैं। ऐसे में पुलिस व प्रशासन ने आमजन के लिए झील पर प्रवेश बंद कर दिया है। पुलिस व एसटीएफ तैनात कर दी गई है। किसी को भी झील की तरफ जाने की इजाजत नहीं है।
खनन क्षेत्र व गड्ढे जानलेवा बने
भारी बारिश के चलते शहर के पर्यटन व धार्मिक स्थल ही नहीं बल्कि पत्थर की खानें भी पानी से लबालब भरी हैं। इसके अलावा सड़कों पर भी जगह-जगह गड्ढे हो रखे हैं। बरसाती पानी भरा होने से गड्ढों का आभास नहीं हो पाता है। इसी के चलते हर समय हादसे की आशंका रहती है।
पानी ने ली 11 जनों की जान, भाई-बहन शामिल
- 26 जुलाई : बावड़ी में गोविंदपुरा के पास मिट्टी के अवैध खनन से बने गड्ढे में भरे पानी में भाइ-बहन सहित चार मासूम बच्चे डूब गए थे।
- 26 जुलाई : बेरी गंगा के झरने में बहकर पानी में गिरने से एक युवक डूब गया था।
- 26 जुलाई : फलोदी क्षेत्र में एक युवक डूब गया था।
- 27 जुलाई : जैसलमेर हाइवे पर गुमानपुरा के पास गड्ढे में मासूम बालक डूब गया था।
- 27 जुलाई : एकलखोरी के समराथल नगर में पानी भरने के दौरान पांव फिसलने से कृषक डूब गया था।
- 30 जुलाई : अरना-झरना के पास खनन से बने गड्ढे में मासूम डूब गया था।
- 31 जुलाई : बालेसर में पत्थर की खान में भरे पानी में ट्रैक्टर ट्रॉली सहित गिरे दो श्रमिकों की मौत।
- 31 जुलाई : फलोदी के बेंगटी कला में वीडियो बनाने के दौरान पांव फिसलने से दो युवक डूबे।
---------------------------
मालवीय मानव सेवा समिति के अध्यक्ष दाऊलाल मालवीय ने बताया कि बारिश में निम्नलिखित सावधानियां बरतें :-
- मानसून और जलभराव की िस्थति के दौरान कार या अन्य वाहन में हवा से भरा एक ट्यूब और 60-70 लम्बी रस्सी साथ जरूर रखें। ताकि जलभराव से कोई हादसा होने पर न सिर्फ खुद बल्कि डूबने वालों की जान बचाई जा सके।
- तेज बारिश के दौरान पिकनिक स्पॉट या पहाड़ी व पर्यटन स्थलों पर परिवार व बच्चों को ले जानें से बचें।
- बारिश में सेल्फी लेने के लिए जलभराव स्थलों के नजदीक न जाएं।
- बारिश का पानी बह रहा हो तो रपट से वाहन निकालने का प्रयास न करें। तेज बहाव के दौरान वाहन को रपट से दूर रखें।
,
बालेसर स्थित खान में ट्रैक्टर ट्रॉली के गिरने से डूबे श्रमिकों के शव।,बालेसर स्थित खान में ट्रैक्टर ट्रॉली के गिरने से डूबे श्रमिकों के शव मिलने पर जमा लोग।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Nashik News: कंबल में लेटाकर प्रेग्‍नेंट महिला को पहुंचाया गया हॉस्पिटल, दिल दहला देने वाला वीडियो हुआ वायरलबीजेपी अध्यक्ष ने LG को लिखा लेटर, कहा - 'खराब STP से जहरीला हो रहा यमुना का पानी, हो रहा सप्लाई'सलमान रुश्दी पर हमला करने वाले की ईरान ने की तारीफ, कहा - 'हमला करने वाले को एक हजार बार सलाम'58% संक्रामक रोग जलवायु परिवर्तन से हुए बदतर: प्रोफेसर मोरा ने बताया, जलवायु परिवर्तन से है उनके घुटने के दर्द का संबंध14 अगस्त स्मृति दिवस: वो तारीख जब छलनी हुआ भारत मां का सीना, देश के हुए थे दो टुकड़ेआरएसएस नेता इंद्रेश कुमार का बड़ा बयान, बापू की छोटी सी भूल ने भारत के टुकड़े करा दिएHimachal Pradesh: जबरदस्ती धर्म परिवर्तन करवाने पर होगी 10 साल की जेल, लगेगा भारी जुर्मानाDGCA ने एयरपोर्ट पर पक्षियों के हमले को रोकने के लिए जारी किया दिशा-निर्देश
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.