परिवार से मिली प्रेरणा तो रूचि ही बन गया बिजनेस

 

पत्रिका पहल : सैकंड इंकम

By: Nandkishor Sharma

Published: 15 Sep 2021, 11:21 AM IST

मेरा नाम संगीता परिहार है । मैंने बीए पास किया है । मैं लकडी से निर्मित होने वाले हैण्डीक्राफ्ट आइटम बनाती हूं । लकडी के अलावा पत्थर के आइटम पर मीनाकारी के साथ साथ मिनिएचर आर्ट और कैनवास पर भी पेंटिंग करती हूं । मैने अपना बिजनेस 3 साल पहले परिवार की प्रेरणा से छोटे स्तर पर शुरू किया था । मेरे पति ठेकेदारी का कार्य करते है। कोरोनाकाल में व्यवसाय का सफ र मुश्किल होने पर नए सिरे से ऑनलाइन व्यवसाय चालू किया तो धीरे धीरे काम में सफलता मिलने लगी। मैंने मंडोर क्षेत्र के मानसिक वेमंदित गृह में भी बच्चों को विभिन्न तरह के हस्तशिल्प उत्पादों को बनाना सिखाया।

शौक बन गया बिजनेस,

अब दूसरों को रोजगार बचपन के पेंटिंग के शौक को मैने विवाह के बाद खाली समय में जारी रखा था। उसी शौक को बिजनेस का रूप देने के प्रेरणा परिवार के सदस्यों और बच्चों से ही मिली। घर वालों की प्रेरणा से ही अपना बिजनेस घर से ही शुरू किया। कोरोनाकाल में घर बैठे बहुत सारे गिफ्ट आइटम बनाए और उनको ऑनलाइन बेचना शुरू किया। धीरे धीरे ऑनलाइन बिजनेस में प्रगति होने पर मांग के अनुरूप कई तरह के हस्त शिल्प के आइटम की मांग होने लगी। ऐसे में अन्य 8 से 10 महिलाओं से डिमांड वाले प्रॉडक्ट बनवाकर उन्हें भी रोजगार के साथ साथ कुछ और भी महिलाओं को यह हुनर सिखा रही हूं।

शुरुआत वेस्ट को यूज से

संगीता ने करीब तीन साल पहले वेस्ट को यूज करते हुए खूबसूरत आर्ट बनाकर मात्र दस हजार रुपए से बिजनेस शुरू किया था। इससे जूलरी बॉक्स से लेकर क्लॉक , रॉयल प्रिंसेज, ढोला मारू , अकबर जोधा , रानी पद्मावती , मूमल , रानी रूपमती सहित कई रॉयल प्रिंसेज और प्रिंस को झरोखे सहित कैनवास पर उकेरना शुरू किया। वुडन पर पेंट और वॉर्निश कर इस पर एक्रेलिक वर्क कर नए प्रॉडक्ट बनाने शुरू किए।

संगीता ने अपने कार्य अनुभव से बनाया महिलाओं के लिए सेल्फ टेस्ट :

होम बिजनेस से पहले 100 की मार्र्किंग पर कर ले खुद का आकलन जज्बा : महिलाओं को सबसे पहले अपने भीतर छिपी कला को पहचान कर उसे तराशना होगा। जिस किसी कार्य में उन्हें निपुणता हासिल हो और जिसे करने में सहज और सक्षम हो उस दिशा में प्रथम कदम बढ़ाने की शुरुआत करनी चाहिए। 10


सीख : बिजनेस में यदि कमाई कम होने लगे तो उसमें कमियों को समझे और समय की मांग के अनुसार कुछ नया करके दिखाए । 20शुरुआत : संचार क्रांति के इस दौर में महिलाओं को घर बैठे ऑनलाइन बहुत सारे काम मिल सकता है। अपने खुद के प्रॉडक्ट को वर्चुअल एक्जीबिशन से लगातार जोड़े रखे। व्यापार के विस्तार के लिए सरकारी सहायता व महिलाओं को कम ब्याज पर ऋण सुविधाएं उपलब्ध कराई जाती है । लेकिन ऋण तभी लेना चाहिए जब व्यापार लाभ दे रहा हो 20

गुणवत्ता : स्वयं को क्वालिटी प्रॉडक्ट की जानकारी देने के लिए हमेशा तैयार रखें । हाथ से बने प्रॉडक्ट की मांग हमेशा रहती है। बस उसमें क्वालिटी व फिनिशिंग तथा कीमत वाजिब होनी चाहिए। इसके अलावा वर्चुअल एक्जीबिशन्स का ध्यान रखा जाना चाहिए। 30

सफलता : घर परिवार के सदस्यों से सलाह मशविरा करते रहे। घर और अपने काम में परिवार को साथ रखने से घर और बाहर दोनो जगह सफलता मिलती है।20

इनकम मीटर कारोबार शुरू 10 हजार से

वर्ष 2018 48 हजार

वर्ष 2019 1.40 हजार

वर्ष 2020 3 लाख

Patrika
Nandkishor Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned