मोबाइल नम्बर से राष्ट्रपति की फोटो एडिट करने वाले की तलाश

- राष्ट्रपति से सम्मानित होने की फर्जी फोटो से सोशल मीडिया पर वाह-वाही लूटने का मामला

By: Vikas Choudhary

Published: 13 Jul 2020, 04:00 AM IST

जोधपुर.
सोशल मीडिया पर वाह-वाही बटोरने के लिए राष्ट्रपति से सम्मानित होने की फोटो एडिट (कांट-छांट) करने वाले दिल्ली के व्यक्ति का सुराग नहीं लग पाया। मथानिया थाना पुलिस मोबाइल नम्बर के आधार पर उस व्यक्ति तक पहुंचने का प्रयास कर रही है।

थानाधिकारी डॉ गौतम डोटासरा के अनुसार प्रकरण में तिंवरी कस्बे के खत्रियों का बास निवासी राहुल राठी रिमाण्ड पर हैं। उसने दिल्ली के ई-मार्ट में फोटो एडिट करने वाले व्यक्ति के ऑनलाइन मोबाइल नम्बर सर्च करके सम्पर्क किया था। राहुल का कहना है कि वह उस व्यक्ति का नाम व पता नहीं जानता है। सिर्फ ई-मार्ट में उससे सम्पर्क किया था। उसके आग्रह पर दिल्ली के व्यक्ति ने राष्ट्रपति से सम्मानित होने वाली फोटो एडिट की थी।
राष्ट्रपति से बतौर सम्मान प्रमाण पत्र प्राप्त करते हुए राहुल की फोटो बनवाई थी। यह फोटो व प्रमाण पत्र एडिट करके उस व्यक्ति ने राहुल को व्हॉट्सएेप पर भेजी थी। बदले में राहुल ने उसे दो सौ रुपए दिए थे। व्हॉट्सएेप से ही राहुल ने फोटो अपनी फेसबुक आइडी पर अपलोड कर दी थी। साथ ही व्हॉट्सएेप पर वायरल भी की थी।

पुलिस पूछताछ में आरोपी राहुल फोटो एडिट करने वाले के बारे में कोई जानकारी नहीं दे पा रहा है। पुलिस सिर्फ मोबाइल नम्बर के आधार पर उस व्यक्ति का पता लगाने का प्रयास कर रही है।
गौरतलब है कि गत नौ जुलाई को राहुल ने सोशल मीडिया पर राष्ट्रपति से सम्मानित होने की फर्जी फोटो अपलोड की थी। सोशल मीडिया पर अनेक लोगों ने लाइक्स व कमेंट कर प्रशंसा की थी, लेकिन कस्बे के कुछ लोगों को संदेह हो गया था। उन्होंने पुलिस को सूचना दी थी। तिंवरी निवासी परिचित रमेश कुमार ने उसके खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया था। पुलिस ने राहुल राठी को गिरफ्तार कर दो दिन का रिमाण्ड लिया है। उसे सोमवार को दुबारा पेश किया जाएगा।

Vikas Choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned