आखातीज को लेकर गुलजार होने लगे बाजार

आखातीज को लेकर गुलजार होने लगे बाजार

Manish Panwar | Publish: May, 03 2019 01:02:16 AM (IST) | Updated: May, 03 2019 01:02:17 AM (IST) Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

भोपालगढ़. कस्बे सहित क्षेत्र के ग्रामीण इलाकों में आगामी 7 मई को मनाए जाने वाले आखातीज के पर्व की रौनक अभी से परवान पर नजर आने लगी है।

भोपालगढ़. कस्बे सहित क्षेत्र के ग्रामीण इलाकों में आगामी 7 मई को मनाए जाने वाले आखातीज के पर्व की रौनक अभी से परवान पर नजर आने लगी है। जिसके चलते गांवों में लोग अभी से ही शादी विवाह की तैयारियों में जुटे हैं। तो वहीं कस्बे में भी दुकानों पर खरीदारी के लिए लोगों की खासी भीड़ उमडऩे लगी है।

गांवों में अबूझ सावा के रूप में मशहूर आखातीज पर इस बार भी शादी-विवाह के कई आयोजन होंगे। जिसको लेकर गांवों में तैयारियां शुरू हो गई है। शादी वाले घरों में रंगाई-पुताई के साथ ही अन्य कामकाज पूरे जोर-शोर से किए जा रहे हैं। वहीं कस्बे में भी कपड़ा, किराणा, सोना-चांदी एवं अन्य दुकानों पर लोगों की भीड़ नजर आने लगी है और शादी-ब्याह वाले परिवार के लोग सुबह से ही यहां खरीदारी के लिए आने लगे हैं। जिसके चलते इन दिनों कस्बे की बाजार में खासी रौनक छाई हुई है। वहीं शादियों के सीजन में कस्बे के बाजार भी खरीदारी बढऩे से रोशन है। कपड़ा, फैंसी, जनरल स्टोर, किराणा व ज्वैलर्स सहित सभी दुकानों पर ग्राहकों की जमकर भीड़ दिखाई दे रही है। कई जगहों पर तो वाहनों से जाम की स्थिति भी बन जाती है। वहीं अक्षय तृतीया पर अबुझ सावों का मुहूर्त होने के कारण क्षेत्र में सैकड़ों शादीया होंगी। क्षेत्र भर में शादी-विवाह व मांगलिक कार्यों को लेकर खरीदारी से भोपालगढ़ कस्बे के बस स्टैंड व बाजार पूरी तरह से रोशन दिखाई नजर आ रहे है।
आखातीज के बड़े सावे

आखातीज पर इस बार मई महिने में 6, 7 एवं 12 तारीख को बड़े सावे हैं। ऐसे में बाजार में भी खरीदारी चरम पर नजर आ रही है और इन दिनों बड़ी संख्या में खरीदारी के लिए लोग बाजारों में पहुंच रहे हैं। बाजार में कपड़ा, बर्तन, ज्वैलरी सहित अन्य दुकानदारों के यहां ग्राहकों से रौनक बनी हुई है। व्यापारी भी इस मौके को भुनाने के लिए पूरी तरह मुस्तैद नजर आ रहे हैं और दुकानें माल से भरी हुई है। इस बार अप्रेल माह में भी सावे खूब रहे और वहीं मई माह में भी शादियों की धूम है। इस माह आखातीज का अबूझ सावा होने के कारण इस दिन बड़ा सावा है। ऐसे में खेती-किसानी का काम निपटाने के बाद अब किसानों का रुख भी बाजार में खरीदारी की ओर होने लगा है।
बनी है चहल-पहल

दुकानदार कालूदास वैष्णव बताते हैं कि किसान अक्सर शादी के लिए ऐसा सावा चुनते हैं, जब वे खेती-बाड़ी से निवृत्त हो जाते हैं। अब ज्यादातर किसान खेती का काम पूरा कर चुके हैं। फसल बेचने के बाद उनकी जेब में अब पैसा भी आ रहा है। ऐसे में वे भी खरीदारी में जुट गए हैं। कपड़ा व्यवसायी माणकराम विश्नोई का कहना है कि शादियों के सीजन में इन दिनों बड़ी संख्या में ग्राहक बाजार पहुंच रहे हैं और इससे बिक्री में भी उछाल आया है। कपड़ों की दुकान पर महिलाएं अपने तथा परिवार के लिए कपड़े पसंद करती नजर आ रही हैं। वहीं ज्वेलर्स के यहां उपहार में देने के लिए ज्वेलरी बनवाई जा रही हैं। शगुन के रूप में बर्तन दिए जाने के चलन को लेकर बाजार में बर्तनों की भी खूब खरीदारी हो रही है। बाजार में बड़ी तादाद में ग्राहकों के पहुंचने से दुकानदार उत्साहित नजर आ रहे हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned