छुट्टी केंसल: राजस्थान हाईकोर्ट में सीजेआई की अपील पर अब से शनिवार को भी होगी सुनवाई..

Harshwardhan Bhati

Publish: Sep, 16 2017 06:30:04 (IST)

Jodhpur, Rajasthan, India
छुट्टी केंसल: राजस्थान हाईकोर्ट में सीजेआई की अपील पर अब से शनिवार को भी होगी सुनवाई..

राजस्थान हाईकोर्ट में सीजेआई की अपील पर अब से प्रत्येक शनिवार को अरसे से लंबित आपराधिक मामलों की सुनवाई होगी।

- जोधपुर और जयपुर की एडवोकेटस एसोसिएशनों ने किया है विरोध

-आज से हर शनिवार को भी होगी पुराने आपराधिक मामलों की सुनवाई

जोधपुर. राजस्थान हाईकोर्ट में सीजेआई की अपील पर अब से प्रत्येक शनिवार को अरसे से लंबित आपराधिक मामलों की सुनवाई होगी। 16 सितंबर को इसके लिए दो बैंचों का गठन किया गया है, जो सुबह 11 बजे से 1 बजे तक व दोपहर 2 बजे से साढ़े चार बजे तक सुनवाई करेगी। राजस्थान हाईकोर्ट एडवोकेट्स एसोसिएशन के अध्यक्ष रणजीत जोशी और जयपुर की हाईकोर्ट एडवोकेटस एसोसिएशन के अध्यक्ष राजेन्द्रकुमार शर्मा ने कहा कि वे शनिवार को कार्यदिवस के रूप में शुरू करने का विरोध करते हैं। हालांकि इस रोज पुरानी लंबित क्रिमिनल अपीलों की सुनवाई की जानी है, इसलिए वे किसी भी अधिवक्ता को इसमें शिरकत करने से नहीं रोकेंगे। अब तक हाईकोर्ट में छह दिन के सप्ताह की परंपरा रही है।

 

दो एकलपीठों में होगी सुनवाई
हाईकोर्ट की ओर से जारी कॉज लिस्ट के अनुसार शनिवार 16 सितंबर को न्यायाधीश गोपालकृष्ण व्यास और न्यायाधीश मनोजकुमार गर्ग क्रमश: कोर्ट संख्या 3 व 13 में सुबह 11 बजे से 1 बजे तक और लंच के बाद 2 बजे से शाम चार बजे तक सुनवाई करेंगे।

कोर्ट संख्या 3 में जस्टिस व्यास की एकलपीठ में आपराधिक अपीलों के कुल 14 मामले सूचीबद्ध हैं, जिनमें से दो मामलों में 10-10 साल से याचिकाकर्ता अभियुक्त जेलों में सजा भुगत रहे हैं। कोर्ट संख्या 13 में भी आपराधिक अपील के 12 मामले सूचीबद्ध हैं। इनमें से दो मामलों में 10-10 साल के व एक मामले में 5 साल से अधिक समय से सजा भुगत रहे अभियुक्त अपीलकर्ता शामिल हैं। इन मामलों में हाइकोर्ट विधिक समिति से जुड़े अधिवक्ता पैरवी करेंगे।- जोधपुर और जयपुर की एडवोकेटस एसोसिएशनों ने किया है विरोध..हालांकि इस रोज पुरानी लंबित क्रिमिनल अपीलों की सुनवाई की जानी है, इसलिए वे किसी भी अधिवक्ता को इसमें शिरकत करने से नहीं रोकेंगे। अब तक हाईकोर्ट में छह दिन के सप्ताह की परंपरा रही है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned