भारत बंद का जोधपुर में दिखा मिलाजुला असर, व्यापारियों ने स्वैच्छा से बंद रखे प्रतिष्ठान

Harshwardhan Bhati | Publish: Sep, 06 2018 05:03:46 PM (IST) Jodhpur, Rajasthan, India

शहर के मुख्य स्थानों पर पर्याप्त संख्या में पुलिस फोर्स तैनात रहा। थानों व लाइन का जाब्ता लगातार गश्त करते रहे।

video credit : girdhari paliwalजोधपुर. एससी-एसटी एक्ट में संशोधन से नाराज सवर्ण-पिछड़े वर्ग के कई संगठनों की ओर से विरोध स्वरूप गुरुवार को भारत बंद का आह्वान किया गया। इसका जोधपुर शहर सहित संभाग भर में मिलाजुला असर देखने को मिल रहा है। जोधपुर के प्रमुख बाजारों में चहल-पहल बंद रही। कई जगहों पर दुकानें खुली होने पर शांतिपूर्वक उन्हें बंद कर के समर्थन मांगा गया। बंद के समर्थकों ने सरदारपुरा सहित अन्य क्षेत्रों में दुकानें बंद रखने की अपील की। विभिन्न सामाजिक व व्यापारिक संगठनों की ओर से रैली निकाल कर बंद को सफल बनाने की कोशिश की। इस दौरान पुलिस की कड़ी सुरक्षा और हर जगह जाप्ता तैनात रहा। समता आंदोलन समिति के आह्वान पर सर्व समाज के बंद के आह्वान को लेकर शहर में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस ने पुख्ता बंदोबस्त किए हैं। इस दौरान शहर के प्रमुख स्थानों पर माकूल पुलिस तैनात रही। साथ ही अन्य भागों में पुलिस पेट्रोलिंग (गश्त) की जा रही है। पुलिस कमिश्नर आलोक कुमार वशिष्ठ ने बताया कि बंद को लेकर पुलिस के पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। कानून-व्यवस्था तोडऩे वालों से सख्ती से निपटा जाएगा। शहर के मुख्य स्थानों पर पर्याप्त संख्या में पुलिस फोर्स तैनात रहा। थानों व लाइन का जाब्ता लगातार गश्त करते रहे।

जोधपुर जिले के विभिन्न कस्बों व गांवों आदि में भी बंद का मिलाजुला असर रहा। ओसियां में सर्व समाज संघर्ष समिति के राजस्थान बंद के आहवान पर सभी प्रतिष्ठान पूर्णतया बंद किए गए है। जिसमें ब्रहामण, राजपूत, अग्रवाल व सुनार सहित कई समाजों ने समर्थन दिया। सर्व समाज के लोगों ने शांतिपूर्वक ओसियां कस्बे में रैली निकाल ओसियां सरपंच श्यामलाल ओझा के नेतृत्व में तहसीलदार आईदान पंवार को ज्ञापन सौंपा। देचू तहसील स्तर का बाजार शांतिपूर्ण बंद रहा। थानाधिकारी दीपसिंह भाटी मय पुलिस जाब्ते के साथ पुरे बाजार में गश्त करते रहे। सभी व्यापारियों ने अपने-अपने प्रतिष्ठान स्वेच्छा से बंद रखकर सरकार के खिलाफ रोष प्रकट किया। इस दौरान बड़ी संख्या में व्यापारी मौजूद थे। इस कड़ी में चामू कस्बा बंद रहा और नाथड़ाऊ कस्बा पूर्ण रूप से बंद रहा। बिलाड़ा में भारत बंद के समर्थन कस्बे की दुकान बंद करवाते हुए नजर आए। इसी तरह भारत बंद के समर्थन में पीलवा कस्बा पूर्ण तह से बंद रहा तथा शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए लोहवाट पुलिस के कांस्टेबल भी तैनात किए गए। पीलवा व्यापार मंडल के आह्वान पर सभी संगठनों ने पीलवा कस्बा बंद रखा। फलोदी में प्रमुख बाजारों में व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रहे। सभी व्यापारी बाजार में एकत्रित हुए। देणोक के शैतान सिंह नगर, मोरिया, आऊ, चौतीना व चाडी में बंद का असर कम देखने को मिला।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned