अब जोधपुर लिफ्ट कैनाल में थमी जलापूर्ति

फलोदी. जिले की जीवनरेखा जोधपुर लिफ्ट कैनाल अब सूख गई है। पहले इंदिरा गांधी मुख्य नहर और अब जोधपुर लिफ्ट कैनाल में क्लोजर लिया गया है।

By: Manish Panwar

Published: 05 May 2018, 01:19 AM IST

फलोदी. जिले की जीवनरेखा जोधपुर लिफ्ट कैनाल अब सूख गई है। पहले इंदिरा गांधी मुख्य नहर और अब जोधपुर लिफ्ट कैनाल में क्लोजर लिया गया है। जोधपुर लिफ्ट कैनाल के ० आरडी मदासर पर गुरुवार रात जलापूर्ति बंद हो गई तथा यहां दोनों गेट बंद कर दिए गए है, जिससे नहर के शुरुआती हिस्से अब सूख गए हैं। क्लोजर के दौरान नहर में सभी आठ पम्पिंग स्टेशन व पूरी नहर में सफाई, मरम्मत व रख-रखाव के कार्य किए जाएंगे।

इधर, नहर सूखते ही कंपनी रख रखाव के काम शुरू करने में जुट गई है। जोधपुर लिफ्ट कैनाल में यह कार्य ८ मई तक पूर्ण होने की संभावना जताई गई है। अब नहर में उपलब्ध पानी को धीरे-धीरे आगे बढ़ाया जा रहा है तथा आवश्यकतानुसार परियोजनाओं को जलापूर्ति की जाएगी। वहीं मुख्य नहर के एस्काडा सिस्टम में शुक्रवार शाम ४.४५ बजे तक आरडी ५८२ तक ३२१५ क्यूसेक पानी का बहाव बताया जा रहा था।

धीरे-धीरे सूखेगी पूरी नहर
शनिवार तक जोधपुर लिफ्ट कैनाल के ० आर डी से पम्पिंग स्टेशन संख्या २ तक मरम्मत, रख-रखाव और सफाई का काम होगा। फिर नहर में उपलब्ध पानी को धीरे-धीरे आगे बढ़ाया जाएगा। जैसे-जैसे पानी आगे बढ़ेगा, पीछे नहर से पानी खाली होने के साथ ही सफाई कार्य भी होता रहेगा। नहर सफाई को लेकर जीसीकेसी कंपनी मशीनरी के साथ जुट गई है। जहां क्लोजर के दौरान फ्लोरिंग जोन, शिल्टिंग बेसिन, खुली नहर की सफाई, पम्पिंग स्टेशन, पाइपलाइन की मरम्मत आदि के कार्य होंगे।

अब काम आएगा संग्रहित पानी
नहर में जलापूर्ति बंद होते ही पीएचईडी के रिजर्वायर का उपयोग शुरू हो जाएगा। जिसमें लिफ्ट कैनाल से जुड़े कई शहर व कस्बों के साथ करीब एक हजार से ज्यादा गांवों में जलापूर्ति होगी। फिलहाल पीएचईडी द्वारा नहर से पानी नहीं मिलने की स्थिति में डिग्गियों या रिजर्वायर में उपलब्ध पर्याप्त पानी से जलापूर्ति व्यवस्थाएं सुचारू रखने की बात कही जा रही है। वहीं फलोदी शहर में अब शिवसर तालाब से जलापूर्ति की जाएगी।

इनका कहना है
जोधपुर लिफ्ट कैनाल में गुरुवार रात ८ बजे जलापूर्ति बंद हो गई है। इसके ० आरडी पर मुख्य नहर का पानी पहुंचने से पूर्व ही सफाई व मरम्मत कार्य पूर्ण कर लिया जाएगा। जलापूर्ति सुचारू रखने के लिए विभाग द्वारा पर्याप्त जल संग्रहण किया गया है, लोग पानी का मितव्ययता से उपयोग करें।

जयसिंह चौधरी, अतिरिक्त मुख्य अभियंता, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग, जोधपुर।
कैनाल में जलापूर्ति थमने के साथ ही ० आरडी, पम्पिंग स्टेशन १ व २ पूूरा बंद कर दिया गया है। यहां से मरम्मत व सफाई का कार्य पूर्ण होते ही आगे काम शुरू हो जाएगा। 8 मई तक कैनाल में काम पूर्ण होने की संभावना है।

श्यामसिंह, सहायक अभियंता, जोधपुर लिफ्ट कैनाल।

 

Manish Panwar Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned