सादे वस्त्र व बिना नम्बर कैम्पर में पुलिस ने रौब दिखाया तो लोगों ने पीटा

- बायो डीजल बेचने की कार्रवाई करने पहुंची सीएसटी, सिर में लाठी लगने से दो सिपाही घायल
- हेड कांस्टेबल व कांस्टेबल को पीछे छोड़ भागे सीएसटी प्रभारी निरीक्षक व अन्य पुलिसकर्मी

By: Vikas Choudhary

Published: 21 Jul 2021, 01:24 AM IST

जोधपुर.
बासनी थानान्तर्गत सांगरिया बाइपास पर सोऊओं की ढाणी में बायो डीजल बेचने के खिलाफ कार्रवाई करने सादे वस्त्र व बिना नम्बर की बोलेरो कैम्पर में पहुंची क्राइम स्पेशल टीम (सीएसटी) को लोगों ने पीट दिया। पिस्तौल भी छीन ली। दो सिपाही घायल हो गए। टीम प्रभारी व निरीक्षक को मौके से भागना पड़ा। बासनी थाने में जानलेवा हमले व राजकार्य में बाधा डालने का मामला दर्ज कराया।

पुलिस ने बताया कि सोऊओं की ढाणी में ट्रक में बायो डीजल भरने की सूचना पर सीएसटी प्रभारी व पुलिस निरीक्षक अनिल यादव ने टीम के साथ सोमवार रात 9.30 बजे दबिश दी। खुद का परिचय दिए बगैर पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी। वहां मौजूद लोगों ने सीएसटी विरोध पर उतर आए। आपाधापी में सीएसटी के साथ धक्का-मुक्की और फिर मारपीट शुरू कर दी।
मामला बढ़ता देख सीएसटी प्रभारी अनिल यादव व अन्य सिपाही मौके से भाग गए। हेड कांस्टेबल गंगासिंह व कांस्टेबल थानाराम लोगों के बीच फंस गए। हेड कांस्टेबल गंगासिंह ने पिस्तौल निकाली तो लोगों ने छीन ली। लाठियों व पत्थर से सरकारी वाहनों में तोड़-फोड़ की।

फिर पुलिस की हाइवे मोबाइल मौके पर पहुंची। सबको पकडऩे का प्रयास किया गया तो पथराव व लाठियों से हमला कर दिया गया। सिर में लाठी लगने से कांस्टेबल थानाराम घायल हो गया। जिसका एम्स में उपचार कराया गया।
थानाधिकारी पाना चौधरी ने बताया कि निरीक्षक अनिल यादव की तरफ से पुलिस ने सोहनलाल व भाई करताराम पुत्र सोनाराम, उसके दो पुत्र व पन्द्रह-बीस लोगों के खिलाफ जानलेवा हमला, राजकार्य में बाधा डालने, लूट व सरकारी सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाने का मामला दर्ज किया। फिलहाल कोई गिरफ्तार नहीं हुआ है।

Vikas Choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned