चार साल के बच्चे का हुआ अपहरण, सीसीटीवी में कैद हुई तस्वीरें

- पुलिस ने कुछ ही घंटो में बच्चा सकुशल ढूंढ़ निकाला

By: Neeraj Patel

Published: 18 Feb 2021, 06:00 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
कन्नौज. जिले में एक चार वर्षीय बच्चे के अपहरण का मामला सामने आने के बाद हड़कंप मच गया, जिसके बाद उसकी खोजबीन शुरू हुई। इसी बीच मामले का एक सीसीटीवी फुटेज सामने आने के बाद पुलिस ने बच्चे की तलाश मैं तेजी लाते हुए उसको महज कुछ घंटों में ही खोज लिया लेकिन सीसीटीवी फुटेज में कॉस्टेबल महिला बच्चे को बाइक पर बैठाकर ले जाते हुए अभी भी पहेली बनी हुई है। हालांकि पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में लेकर उनसे पूछताछ शुरू कर दी है और अपहरण के पीछे की मंशा को जानने में जुटी है।

सौरिख थाना क्षेत्र के अंबेडरकर नगर महादेव मोहल्ला निवासी सोनू की बैंड की दुकान है। बीते बुधवार की दोपहर सोनू घर खाना खाने गया था। जैसे ही वह खाना खाकर वापस लौटा, तभी उसका चार वर्षीय पुत्र आयुष भी घर निकल गया। बेटे को घर में न पाकर परिजनों ने खोजबीन की, लेकिन उसका कोई पता नहीं चल सका। खोजबीन के दौरान बालक राजापुर गांव निवासी सुरेंद्र को मिलने की जानकारी हुई। जिसके बाद परिजन सुरेंद्र के पास पहुंच गए। पूछताछ पर सुरेंद्र ने बताया कि उसको बच्चा मिला था, लेकिन बच्चा उसने एक महिला कॉस्टेबल के सुपुर्द कर दिया था। जिसके बाद परिजन व सुरेंद्र सिंह कोतवाली पहुंच गए। परिजन महिला कॉस्टेबल का थाने में आने का इंतजार करते रहे, लेकिन कई घंटे बीत जाने के बाद भी महिला कॉस्टेबल थाने नहीं पहुंची।

परिजनों ने मामले की जानकारी अन्य पुलिस कर्मियों को दी। थाना में तैनात सभी महिला पुलिस कर्मियों को बुलाकर सुरेंद्र से पहचान कराई गई, लेकिन उसमें बच्चा ले जाने वाली महिला कॉस्टेबल की पहचान नहीं हो सकी। महिला कॉस्टेबल द्वारा बच्चा ले जाने का मामला सामने आने पर विभाग में हड़कंप मच गया। जब सुरेंद्र ने महिला कॉस्टेबल को सुपुर्द किया तो पास की दुकान में लगे सीसीटीवी में पूरी घटना कैद हो गई। सीसीटीवी में महिला कॉस्टेबल के साथ एक व्यक्ति और दिख रहा है।

कुछ लोगों से पूछताछ जारी

पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर मामले की छानबीन शुरू की तो महज कुछ घंटों में ही पुलिस को बड़ी सफलता मिली और उसने कानपुर से बच्चे को बरामद कर लिया। हालांकि पूरे मामले में पुलिस अभी साफ-साफ सब कुछ कहने से बच रही है। मामले में एसपी प्रशांत वर्मा का कहना है कि साक्ष्यों के आधार पर पुलिस द्वारा बहुत जल्दी बच्चे को रिकवर कर लिया गया है और कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया है उनसे अपहरण के पीछे की मंशा की पूछताछ की जा रही है।

Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned