बुजुर्ग महिला ने फोन पर बताई पीड़ा, एसपी की छलक आईं आंखें

बुजुर्ग महिला ने फोन पर बताई पीड़ा, एसपी की छलक आईं आंखें

Mahendra Pratap | Publish: Dec, 07 2017 06:59:27 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

जिले के पुलिस अधीक्षक हरिशचंद्र ने कार्यालय पर बैठकर डेढ़ घंटे फोन पर नारी सुरक्षा सप्ताह के अंतर्गत जिले की महिलाओं की समस्याएं सुनी।

कन्नौज. जिले के पुलिस अधीक्षक हरिशचंद्र ने कार्यालय पर बैठकर डेढ़ घंटे फोन पर नारी सुरक्षा सप्ताह के अंतर्गत जिले की महिलाओं की समस्याएं सुनीं तो समाज की बिगड़ती स्थिति से रूबरू हुए। तिर्वा कोतवाली अंतर्गत एक बुजुर्ग महिला ने फोन पर पीड़ा बताई तो एसपी की आंखें छलक आईं। पीड़ित मां ने रुंधे गले से बताया कि उसके चार बेटे हैं। सभी अच्छी जगह नौकरी कर रहे हैं पर सात दिन से वह कमरे में अकेली पड़ी है। उनके शब्द कान में गूंजे तो एसपी को भी कलियुगी व्यवहार साफ दिखाई पड़ने लगा।

कार्यालय के बेसिक फोन पर सुनी शिकायतें

इसी तरह एक महिला ने पति पर पर्सनल डायरी उठा ले जाने का आरोप लगाया तो करीब आधार दर्जन से स्थानीय पुलिस की मिली भगत से उत्पीड़न व मामले में सुनवाई न होने की व्यथा बताई। दोपहर के समय एसपी हरिशचंद्र कार्यालय के बेसिक फोन पर शिकायतें सुनने बैठ गए। पहला फोन ठठिया के मदनापुर निवासी महिला रेखा देवी का आया। पारिवारिक विवाद का हवाला देकर कार्रवाई की गुहार लगाई। इसके बाद सहिल्लापुर की सरिता ने फोन पर कोटा चयन में घटना होने की जानकारी दी। बताया कि पुलिस कार्रवाई नहीं कर रही है।

इसके बाद फोन तिर्वा से आया तो एसपी भी हतप्रभ रह गए। मुन्ना होटल के सामने गली में रहने वाली बुजुर्ग महिला ने अपने चार-चार बेटों पर आरोप लगाया कि वह खुशहाल होने के बाद भी देखरेख नहीं कर रहे हैं। एक महिला ने पति पर उत्पीड़न का आरोप लगाया। कहा कि उसकी व्यक्तिगत डायरी लेकर पति चले गए हैं।साथ में तलाक की धमकी दे रहे हैं।

इसी भुगैतापुर की मोहिनी, तिर्वा शुक्ला कालोनी की सीमा, ठठिया के सहलीपुरवा की सीता देवी, गुरसहायगंज की मोनिका गुप्ता, छिबरामऊ की संगीता, नगला धरमा सौरिख की मनोरमा, बहसुइया ठठिया की सुषमा, इंदरगढ़ की बिटान देवी समेत 21 महिलाओं ने अपनी शिकायतें दर्ज कराई।

ये टीमें पीड़ितों की समस्या सुनकर रिपोर्ट देंगी

पुलिस अधीक्षक की माने तो डेढ़ घंटे में अलग-अलग जगह से 21 शिकायतें आई हैं। इनमें थानेवार 21 टीमें बनाने के निर्देश दिए हैं। यह टीमें 24 घंटे के अंदर पीड़ितों की समस्या सुनकर रिपोर्ट देंगी। तिर्वा की पीड़ित बुजुर्ग महिला के लिए पुलिस की तरफ विशेष इंतजाम किए जाएंगे। बोले कि फोन पर लोगों ने खुलकर समस्या बताई। भविष्य में भी इस तरह से शिकायतें सुनेंगे।

Ad Block is Banned