बारिश की तबाही के बाद अब इस वजह से मचा हाहाकार

बारिश की तबाही के बाद अब इस वजह से मचा हाहाकार

Arvind Kumar Verma | Publish: Aug, 12 2018 08:36:58 PM (IST) Kanpur, Uttar Pradesh, India

भारी बारिश की तबाही के बाद अब गांवो में बीमारी ने पैर पसार लिये है, जिससे त्राहि माम मचा हुआ है।

कानपुर देहात-बारिश के बाद गांव में भरे पानी का ऐसा प्रकोप फैल रहा है कि बच्चे बूढ़े और जवान कराह उठे हैं। यहां तक कि अस्पतालों में रोगियों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है। हालात ये हैं कि इन संक्रामक बीमारियों का ऐसा कहर बरस रहा है कि आस पड़ोस के नए नए गांव बीमारी की चपेट में आते जा रहे हैं। बताते चलें कि पिछले दिनों उल्टी दस्त बुखार से ग्रसित होकर एक मरीज काल के गाल में समा चुका है। हाल में मैथा व झींझक ब्लाक के गांव में में एक सप्ताह से बीमारी का प्रकोप चल रहा है। झींझक ब्लाक में इस बीमारी ने एक और मासूम की जान ले ली है। बीमारी के प्रकोप की सूचना पाकर रानेपुर पहुंची स्वास्थ्य टीम ने मरीजों की जांच कर उन्हें दवाईयां वितरित की हैं।

 

बीमारी से हो चुकी ये मौतें

जिले में बारिश के बाद हुए जल भराव से उल्टी दस्त व बुखार का प्रकोप बढ़ रहा है। बीमारी की चपेट में आकर मलासा ब्लाक के निगोही के फैजान, जगजीवनपुर की खुशबू व झींझक ब्लाक के रानेपुर रसूलाबाद की प्रिया की मौत हो चुकी है। इस गांव में एक दिन की खानापूरी के बाद स्वास्थ्य टीम के न जाने से एक सप्ताह से चल रही बीमारी ने रविवार को यहां के जबर सिंह के पुत्र मयंक की भी जान ले ली। जबकि यहां करीब दो दर्जन लोग बीमारी की चपेट में आ चुके हैं। ग्राम प्रधान प्रबल प्रताप सिंह की सूचना पर डॉक्टर जेपी सिंह की अगुवाई में गांव पहुंची स्वास्थ टीम को 30 मरीज बुखार व उल्टी दस्त से पीड़ित मिले, इनका उपचार कर दवाइयां बांटी गईं।

 

बीमारी पर इन नंबरों पर करें सूचना

जिला संक्रामक रोग प्रभारी कानपुर देहात एपी वर्मा ने बताया कि रानेपुर रसूलाबाद में बीमारी से एक और बच्चे की मौत की सूचना पर स्वास्थ्य टीम गांव भेजी गई थी। वहां मिले मरीजों का इलाज कर दवा वितरण कराने के साथ की कीटनाशकों का छिड़काव कराया गया है। सरैंया लालपुर में मैथा के स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी को तत्काल टीम भेजकर मरीजों का इलाज शुरू कराने का निर्देश दिया गया है। बीमारी की सूचना मोबाइल नंबर 7007949902 व 98 3967 3095 तथा 983967 3095 पर लोग दे सकते हैं। ताकि तत्काल टीम भेजकर उपचार शुरू कराया जा सके।

Ad Block is Banned