ऐसी फोन कॉल से रहें सावधान, साइबर ठगों ने अपनाया अब नया तरीका

इस बार साइबर ठग ने निजी कंपनी के एचआर मैनेजर को अपना शिकार बनाया है।

By: Arvind Kumar Verma

Published: 08 Oct 2020, 08:14 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
कानपुर-अब साइबर ठगों ने लोगों को लूटने का नया तरीका अपनाया है। जिसमें ठग रिश्तेदार बनकर आपके खाते से रुपए उड़ा देता है। इस बार साइबर ठग ने निजी कंपनी के एचआर मैनेजर को अपना शिकार बनाया है। उसने रिश्तेदार बनकर उसके खाते से 25 हजार रूपए पार कर दिए। उन्होंने पुलिस से शिकायत की है। साइबर सेल मोबाइल नंबर द्वारा जांच पड़ताल में जुटी है इस नए पैंतरे में साइबर क्यूआर कोड का इस्तेमाल कर रहे हैं। दरअसल इस हाइटेक समय में ऑनलाइन खातों का संचालन लोगों के सुविधाजनक जरूर है, लेकिन ये साइबर ठग इसमें भी लोगों को ठगने के नए तरीके ढूंढ रहे हैं। इसलिए ऐसी फोन कॉल से सावधान रहें।

दरअसल कानपुर नगर के बर्रा निवासी सोनिया भाटिया ने बताया कि 2 अक्टूबर को अवकाश के दिन था। उसके पास अचानक अजनबी नंबर से मोबाइल फोन कॉल आया। फोन करने वाले ने अपना परिचय देते हुए कहा कि वह उनका दूर का रिश्तेदार अनिल बोल रहा है। कई वर्ष बाद अचानक फोन आने और बात होने पर वह ठीक से रिश्तेदार की पुष्टि नहीं कर सकी। उस फोनकर्ता ने हालचाल लेने के बाद पेटीएम खाता चलाने की बात पूछी। जिस पर मैंने हां में जवाब दिया। इस पर उसने अपने ग्राहक की ओर से कुछ रकम मंगवाने की इजाजत मांगी तो रिश्तेदार समझकर हामी भर दी।

इसके बाद उसने खाता नंबर पूछा तो मैंने दे दिया। इसके बाद अंजान नंबर से मोबाइल फोन पर पास चार क्यूआर कोड आए। जिसे स्कैन करने को कहा गया। स्कैन करते ही मेरे खाते से 25 हजार 800 रुपये निकल गए। इसके बाद उसने दूसरे खाते का भी ब्योरा भी मांगा, लेकिन सोनिया ने इनकार कर दिया। मां से पूछा तो उन्होंने बताया कि जिस नंबर से फोन आया था वह अनिल का नहीं है। यह सुनते ही उसके होश उड़ गए। तब उन्हें ठगी का एहसास हुआ। मामले को लेकर वह पुलिस के पास पहुंचीं। साइबर सेल प्रभारी लान सिंह ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।

Show More
Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned