शुभ मुहुर्त पर भाजपा करेगी प्रत्याशी के नाम का ऐलान

23 से 30 सितंबर तक चलेगी नामांकन प्रक्रिया, 13 नामों की सूची प्रदेश कार्यालय भेजी गई, 70 से ज्यादा ने की थी टिकट की दावेदारी।

कानपुर। उत्तर प्रदेश की 11 सीटों के उपचुनाव को लेकर डुगडुगी बज चुकी है। जिसके चलते कानपुर की गोविंद नगर विधानसभा सीट पर कब्जे के लिए सियासी जंग तेज हो गई है। बसपा और कांग्रेस ने यहां पर अपने-अपने उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है, वहीं भाजपा व समाजवादी पार्टी ने अपने पत्ते नहीं खोले। सत्ताधारी दल पितृपक्ष के बाद प्रत्याशी के नाम के ऐलान कर सकता है।जबकि अखिलेश यादव एक-दो दिन के अंदर ब्राम्हण चेहरे को साइकिल का हैंडिल थमा सकते हैं।

13 नाम भेजे गए
अपनी परंपरागत सीट पर कब्जा बरकरार रखने के लिए भारतीय जनता पार्टी पिछले दो माह से अंदरखाने तैयारी में जुटी थी। गोविंद नगर सीट से करीब सत्तर नेताओं ने टिकट के लिए दावेदारी की थी, लेकिन क्षेत्रीय कार्यालय ने 13 नामों वाली एक सूची प्रदेश कार्यालय को भेज दी है। पार्टी के सूत्रों का दावा है कि पितृपक्ष के बाद 29 सितंबर को प्रत्याशी का ऐलान किया जाएगा क्योंकि 30 सितंबर नामांकन की अंतिम तिथि है। वहीं 25 से बैंक बंद रहेंगे और 29 को खुलेंगे। इस पर भी भाजपा नेताओं की नजर है।

मिल सकता है इनाम
क्षेत्रीय कार्यालय से भेजे गए 13 नामों से एक के नाम की ज्यादा चर्चा है। सूत्रों की मानें तो लोकसभा चुनाव के वक्त बसपा से भाजपा में आए निर्मल तिवारी को प्रमुख दावेदार माना जा रहा है। पार्टी ने कन्नौज लोकसभा सीट का प्रभार निर्मल तिवारी को दिया था। 2012 के विधानसभा चुनाव में निर्मल तिवारी गोविंदनगर सीट से बसपा के टिकट पर चुनाव लड़े थे और तीसरे स्थान पर रहे थे। इसके अलावा ऐसे कई अन्य नाम भी हैं, जो पार्टी के संगठन के अलावा पूर्व विधायक व वर्तमान में पार्षद भी हैं।

30 तक चलेगी नमांकन प्रक्रिया
नामांकन प्रक्रिया की शुरूआत 23 सितंबर से हो गई, जो 30 तक चलेगी। पहले दिन 10 लोगों ने आवेदप पत्र लिए। 1 अक्टूबर को नामांकन पत्रों की जांच होगी। 3 अक्टूबर को नाम वापसी व चुनाव चिह्न का आवंटन होगा। 21 अक्टूबर को मतदान और 24 अक्टूबर को मतगणना होगी। जिला निर्वाचन अधिकारी विजय विश्वास पंत ने गोविंद नगर सीट के उपचुनाव को लेकर आचार संहिता लागू कर दी। इस उप चुनाव के लिए अपर नगर मजिस्ट्रेट सप्तम अरुण कुमार को निर्वाचन अधिकारी बनाया गया है।

साढ़े तीन लाख मतदाता चुनेंगे विधायक
गोविंद नगर विधानसभा क्षेत्र के उपचुनाव में 3,58,576 मतदाता अपना विधायक चुनेंगे। इसमें 1,95,891 पुरुष, 1,62,661 महिलाएं और थर्ड जेंडर के 24 मतदाता हैं। वहीं सामान्य वर्ग के प्रत्याशियों के लिए नामांकन शुल्क 10 हजार रुपये है। अनुसूचित जाति के प्रत्याशियों के लिए नामांकन शुल्क पांच हजार रुपये रखा गया है। जबकि गोविंद नगर सीट के उपचुनाव में 70 मतदान केंद्र हैं। इनमें 349 बूथ हैं।

मुहुर्त नहीं डरी भाजपा
कांग्रेस उम्मीदवार करिश्मा ठाकुर ने कहा कि भाजपा शुभ मुहुर्त के कारण नहीं बल्कि डर की वजह से अभी तक अपने उम्मीदवार के नाम का ऐलान नहीं किया। प्रधनमंत्री नरेंद्र मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ के बल पर जीत का सपना संजाए भाजपा नेताओं को उनचुनाव में जनता वोट की चोट देकर करारी शिकस्त देगी। 2012 से गोविंदनगर में एक पैसे का विकास नहीं हुआ। जनता हमारे साथ है, जबकि भाजपा के पास दावेदारों की कतार है। वहीं बसपा उम्मीदवार देवीप्रसाद तिवारी ने कहा कि गोविंदनगर की जनता इसबार बदलाव करने का मन बना चुकी है और यहां पहली बार हाथी की जीत होने जा रही।

Show More
Vinod Nigam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned